मेरठ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को सभी मेडिकल कॉलेजों के प्राचार्य व सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों के देर शाम तक कोविड-19 में पॉजिटिव रोगियों के बेहतर इलाज, खानपान को लेकर वीडियो कांफ्रेंसिंग की। उन्होंने निर्देश दिए कि चिकित्सक मरीजों के प्रति सहानुभूति रखें।

वीडियो कांफ्रेंसिंग में सीएम ने कहा कि मेरठ, आगरा, अलीगढ़, मुरादाबाद, कानपुर में कोविड-19 से अधिक मौतें हुई हैं। चिकित्सा व्यवस्था में सुधार के द्वारा इनको कम किया जाना जरूरी है। कोविड-19 पॉजिटिव रोगियों को शुद्ध, सात्विक भोजन दिया जाए। रोगियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए पौष्टिक भोजन दिया जाना अत्यंत जरूरी है। नाश्ते में दलिया या टोस्ट व रोटी सब्जी दी जाए। इसके साथ ही साथ फल जरूर दिए जाएं। नाश्ता सुबह आठ बजे तक हर हाल में दे दिया जाए। दोपहर का भोजन एक बजे तक मिल जाए। रात्रि का भोजन सात से आठ तक वितरित कर दिया जाए। अस्पताल में साफ सफाई व्यवस्था अच्छी रखी जाए। सीनियर चिकित्सक एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक नियमित रूप से स्वयं इसकी जांच करें। इस दौरान कमिश्नर अनीता मेश्रम, मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार गर्ग, सीएमओ डॉ. राजकुमार, कोविड-19 अस्पताल के नोडल डॉ तुंग वीर सिंह आर्य समेत अन्य कोरोना का उपचार कर रहे अस्पताल के प्राचार्य मौजूद रहे।

Posted By: Taruna Tayal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस