मेरठ, जेएनएन। CM Yogi Visit Meerut: कोरोना महामारी से निपटने के कार्यों की समीक्षा और निरीक्षण के मकसद से रविवार को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तीन जिलों के दौरे पर निकले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि दूसरी लहर से उपजे हालात को काबू में कर लिया गया है। उत्‍तर प्रदेश सरकार ने तीसरी लहर से लड़ने की तैयारियां भी कर ली हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार आक्सीजन उत्पादन में आत्मनिर्भर होने जा रही है। अकेले मेरठ मंडल में 35 आक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाए जा रहे हैं। इनमें 10 अकेले मेरठ जिले के हैं। 

यह दिए निर्देश 

उन्होंने यह भी कहा कि तीसरी लहर में बच्चों पर खतरे की आशंका ज्यादा है लिहाजा प्रत्येक जिला अस्पताल और मेडिकल कालेज में एक पीडियाट्रिक आइसीयू बनाने का निर्देश दिया गया है। प्रेस ब्रीफिंग में मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र और दिल्ली के बाद देश-विदेश के विज्ञानियों का दावा था कि 25 अप्रैल से 10-15 मई के बीच उत्तर प्रदेश में रोजाना एक लाख से अधिक नए केस आएंगे लेकिन प्रधानमंत्री के दिए ट्रिपल टी यानी ट्रेस, ट्रीट एंड टेस्ट मंत्र के तहत इस आशंका को निर्मूल किया गया। 

प्रदेश में घटी संक्रमितों की संख्‍या 

दूसरी लहर में प्रदेश में सर्वाधिक 38,055 केस 24 अप्रैल को दर्ज किए गए थे जबकि सूबे में सर्वाधिक एक्टिव केस 30 अप्रैल को 3.10 लाख था। अब 16 दिन बाद इस मंत्र के सहारे एक्टिव केस 1.6 लाख तक ले आए हैं। आज संक्रमितों की संख्या घटकर 10,600 रह गई है। इसी तरह पहली लहर में भी हमने सर्वाधिक एक्टिव केस को 67 हजार पर थाम लिया था। उन्होंने बताया कि आज एल-2 और ए-3 स्तर में 80 हजार बेड हमारे पास हैं। एक दिन में तीन लाख सैंपलों की जांच की जा सकती है। देश में सर्वाधिक 4.5 करोड़ सैंपल उप्र ने जांचे हैं। इससे पहले मुख्यमंत्री ने पुलिसकर्मियों के लिए बनाए गए आक्सीजन सुविधायुक्‍त 30 बेड वाले अस्पताल और इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर का निरीक्षण किया। कमिश्नरी में जनप्रतिनिधियों के साथ ही मंडल व जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने हापुड़ रोड स्थित बिजौली गांव का दौरा भी किया। वहां योगी ने आक्सीजन फिलिंग प्लांट भी देखा। मेरठ में तीन घंटे 10 मिनट का दौरा पूरा कर मुख्‍यमंत्री शाम सवा छह बजे गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए।

ब्लैक फंगस के लिए क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के साथ ब्लैक फंगस ने भी पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। इसके लिए विशेषज्ञों को लेकर एक क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप बनाया गया है जिसकी सलाह पर इलाज का विस्तृत प्रोटोकाल भी जारी कर दिया गया है। साथ ही सरकारी स्तर पर ब्लैक फंगस का निश्शुल्क इलाज हो, इसके निर्देश भी दे दिए गए हैं।

वैक्सीन की रफ्तार बढ़ाएंगे

योगी ने कहा कि 45 से अधिक उम्र वालों को निश्शुल्क टीका लगाए जाने के साथ ही 18-44 वर्ग के लोगों के लिए भी टीकाकरण को विस्तार दिया जा रहा है। सोमवार से सभी मंडल मुख्यालय समेत 23 जिलों में टीका लगाया जाएगा ताकि कोरोना से हमारी लड़ाई और प्रभावी हो।

गांवों पर भी है विशेष नजर

प्रधानमंत्री मोदी की घर-घर जांच की नीति पर उप्र दो मई से ही चल रहा है। इसकी जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि 97 हजार गांवों के लिए 60 हजार निगरानी समितियां काम कर रही हैं। शहरों में 12 हजार समितियों को लगाया गया है। प्रत्येक समिति में 8-10 लोग हैं। ये गांवों में जाकर जांच करते हैं। संक्रमितों के उपचार से आवश्यकतानुसार उन्हें अस्पताल में दाखिल कराने तक की जिम्मेदारी निभाते हैं। 

मेरठ में कोविड मरीजों की जानकारी लेने व जनपद के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर सीएम योगी आदित्‍यनाथ आज मेरठ पहुंचे। इनका हेलीकाप्‍टर दोपहर करीब तीन बजे पुलिस लाइन में उतारा। यहां पहले से ही एडीजी राजीव सभरवाल, कमिश्नर सुरेंद्र सिंह, आईजी प्रवीण कुमार, डीएम के बालाजी और एसएसपी अजय साहनी पुलिस लाइन में मौजूद थे। जिसके बाद भारी सुरक्षा के बीच पहुंचे सीएम योगी आदित्‍यनाथ यहां से सर्किट हाउस के लिए रवाना हुए। सर्किट हाउस के बाद सीएम कोविड कमांड सेंटर के नीरीक्षण के लिए पहुंच गए। 

पुलिस लाइन में कोविड अस्‍पताल का किया उद्घाटन 

पुलिस लाइन में हेलीकाप्‍टर उतरने के बाद सीएम ने यहां पर पुलिस कर्मियों के लिए बने कोविड अस्‍पताल का उद्घाटन किया। यहां आधुनिक सुविधाओं के साथ 50 बेड का ऑक्‍सीजन युक्‍त अस्‍पताल बनाया गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने पुलिस कोविड-19 स्पिटल का निरीक्षण किया। वहां पर अभी तक कोई भी पुलिसकर्मी एडमिट नहीं था सिर्फ एक डॉक्टर मौजूद मिला डॉक्टर से ही सीएम ने सारी जानकारी ली।

धरने पर बैठे भाकियू व कांग्रसियों को उठाया 

कमिश्‍नरी पर मुख्यमंत्री से मिलने की मांग कर रहे कांग्रेसियों को अनुमति नहीं मिली। जिसके बाद एसडीएम सीओ ने ज्ञापन लेकर मेरठ कालेज से लौटा दिया। कमिश्नरी पर धरने पर बैठे भाकियू कार्यकर्ता-नेताओं को पुलिस ने उठा दिया। जिसके बाद पुलिस ने उन्‍हें पुलिस लाइन थाना भेजा दिया। इसके अलावा भी कई और लोगों ने मिलने की मांग की थी। 

सीएम का काफिला पहुंचने के दौरान ही महिलाओं ने किया हंगामा 

पुलिस लाइन में हेलीकाप्‍टर उतरने के बाद सीएम का काफिला सर्किट हाउस के लिए रवाना हुआ। इसी बीच में सर्किट हाउस के बाहर मुख्यमंत्री से मिलने की जिद पर अड़ी महिलाओं ने जोरदार हंगामा कर दिया। हंगामा करती महिला 4 दिन पहले गंगानगर में मार्बल ठेकेदार की हत्या के मामले में कार्रवाई की मांग को लेकर मुख्यमंत्री से मिलने की जिद कर रही है।  

CM Yogi Visit Meerut: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे से पूर्व एडीजी ने लगाई फटकार, बोले- निकम्मे हैं सब

Edited By: Himanshu Dwivedi