मेरठ, जेएनएन। चौ. चरण सिंह विवि से जुड़े कॉलेजों में स्नातक और परास्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा में करीब एक लाख 90 हजार छात्र-छात्राएं परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। कुलपति का कहना है कि हमारे छात्र-छात्राए परीक्षा को लेकर तैयार हैं। 20 अगस्त से परीक्षा कराने की तैयारी की जा रही है। चार से पांच दिन में परीक्षा कार्यक्रम तय कर लिया जाएगा।

यूजीसी की ओर से सभी विश्वविद्यालयों को अंतिम वर्ष की परीक्षा सितंबर तक कराने को कहा गया है। इसे लेकर कुछ छात्रों की ओर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। जिस पर 14 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है। यूजीसी ने अंतिम वर्ष की परीक्षा कराने की अनिवार्यता पर जोर दिया है। इसके बाद सीसीएसयू परीक्षा की तैयारियों में जुट गया है। विवि में करीब साढ़े चार लाख से अधिक छात्र-छात्रओं को बगैर परीक्षा के प्रोन्नत किया जाना है।

16 अगस्त के बाद से प्रोन्नत छात्रों का रिजल्ट निकलना शुरू हो जाएगा। शेष जिन विषयों की परीक्षा होने वाली है। उसके लिए विवि को एक महीने का समय चाहिए। विवि ने स्नातक और परास्नातक अंतिम वर्ष में प्रश्नपत्रों को कम कर दिया है। स्नातक अंतिम वर्ष में डेढ़ घंटे का पेपर होगा, जबकि परास्नातक अंतिम वर्ष में दो घंटे का पेपर होगा। उधर, सर छोटूराम इंजीनियरिंग कॉलेज में बीटेक अंतिम वर्ष के छात्रों को एकेटीयू के पैटर्न पर दो घंटे बहुविकल्पीय आधारित परीक्षा देंगे। कुलपति प्रोफेसर एनके तनेजा का कहना है कि नौ अगस्त को बीएड की प्रवेश परीक्षा हो गई है। इसके बाद विवि की परीक्षा को लेकर तैयारी है। 20 अगस्त से परीक्षा कार्यक्रम तय करने की योजना बनाई जा रही है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप