मेरठ, जेएनएन। कोरोना से निपटने के लिए जिला प्रशासन के साथ कैंट बोर्ड भी सक्रिय हो गया। कैंट बोर्ड की ओर से शनिवार को सीएबी इंटर कॉलेज को क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया है। यहां स्टाफ के लिए अतिरिक्त सूट भी रखे गए हैं। सीईओ प्रसाद चव्हाण ने शनिवार को आवश्यक एवं स्वास्थ्य सेवाओं में लगे अधिकारियों और कर्मचरियों के साथ बैठक की। उन्होंने सभी को किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए। उन्होंने कैंट क्षेत्र के धार्मिक स्थलों का सर्वे भी करवाया और अपील की गई कि उनमें कोई भी एकत्रित न हो। कोई भी बाहर से आए तो उसकी सूचना तत्काल अफसरों को दी जाए।

कैंट बोर्ड की ओर से हर दिन क्षेत्र में सैनिटाइजेशन और साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सीईओ ने सेवा में लगे कर्मचारियों को भी अपना कार्य करते हुए शारीरिक दूरी का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया। जनसेवा में लगे स्टाफ को स्वयं ही सावधानी रखनी होगी। क्षेत्र में सभी सेवाएं सुचारु रखी जाएं।

सेना ने प्रवेश किया प्रतिबंधित

छावनी क्षेत्र को सुरक्षा घेरे में ले चुकी सेना ने प्रमुख रास्तों को बाहरी लोगों के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। विभिन्न रास्तों पर बैरिकेडिंग करते हुए वहां से गुजरने वालों को भी वापस किया जा रहा है। ठोस कारण नहीं होने पर छावनी में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जा रही है। छावनी में तैनात रहे सैनिकों और सैन्य कालोनियों में रहने वालों को अपने-अपने स्थान पर ही आइसोलेट किया जा रहा है। किसी भी बाहरी व्यक्ति या सैनिक के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। छावनी से भी अकारण किसी सैनिक को बाहर जाने या छावनी में घूमने पर रोक लगाई गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस