मेरठ, जेएनएन। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय और संबद्ध कालेजों में संचालित विषम सेमेस्टर की परीक्षा एक फरवरी से शुरू हो सकती है। परीक्षा जल्द खत्म करने के लिए विश्वविद्यालय की ओर से तीन पालियों में परीक्षा कराई जाएगी। बुधवार को परीक्षा का कार्यक्रम जारी किया जा सकता है।

मेरठ में पहले चरण में विधानसभा का चुनाव है। इसे देखते हुए सात फरवरी से 16 फरवरी के बीच में कोई भी पेपर नहीं रखा जाएगा। एक फरवरी से शुरू में थर्ड सेमेस्टर से आगे के पेपर होंगे। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत संचालित बीए, बीएससी, बीकाम प्रथम सेमेस्टर के परीक्षा फार्म फरवरी के पहले सप्ताह से भरे जाएंगे। वहीं प्राइवेट के परीक्षा फार्म भी फरवरी से भरने शुरू होंगे। विवि की ओर से परीक्षार्थियों को परीक्षा की तैयारी करने के लिए कहा है। ताकि परीक्षा शुरू होने के बाद उन्हें किसी भी तरह की समस्या न रहे। कोविड को देखते हुए परीक्षा केंद्रों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी।

अब 24 तक भरे जाएंगे विषम सेमेस्टर के परीक्षा फार्म : चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय और संबद्ध महाविद्यालयों में स्नातक और परास्नातक विषम सेमेस्टर के परीक्षा फार्म भरने की तिथि बढ़ा दी गई है। कोविड-19 को देखते हुए विषम सेमेस्टर के परीक्षा फार्म भरने की तिथि 24 जनवरी हो गई है। परीक्षा शुल्क आनलाइन जमा करने की अंतिम तिथि भी 24 जनवरी है। 25 जनवरी तक कालेजों में परीक्षा फार्म जमा किए जाएंगे।

विश्वविद्यालय और संबद्ध महाविद्यालयों में करीब एक लाख 65 हजार छात्र छात्राओं के परीक्षा फार्म भरे जा चुके हैं। विश्वविद्यालय की ओर से सेमेस्टर की परीक्षा 30 जनवरी से कराने की तैयारी भी है। लेकिन जिस तरह से परीक्षा फार्म भरने की तिथि बढ़ाई जा रही है। उसे देखते हुए जनवरी में परीक्षा कराना संभव नहीं है। हालांकि विश्वविद्यालय की ओर से चुनाव से पहले परीक्षा शुरू करने की योजना है। जिस पर जल्द ही निर्णय लिया जा सकता है। अभी प्राइवेट और नई शिक्षा नीति के तहत संचालित पाठ्यक्रमों के परीक्षा फार्म नहीं भरे जा रहे हैं। इनके परीक्षा फार्म भरने की तिथि जल्द घोषित की जाएगी।

Edited By: Jagran