बुलंदशहर, जागरण संवाददाता। बुलंदशहर के कोतवाली देहात क्षेत्र के एक गांव सिगरेट के रुपये मांगने पर कुछ युवकों ने दुकानदार को मारपीट कर घायल कर दिया। पिता को बचाने आए बीएसएफ के जवान पुत्र पर फायरिंग कर दी। गोली लगने से बीएसएफ का जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। ग्रामीणों को आता देख कार और बाइक सवार युवकों ने हवाई फायरिंग की और फरार हो गए। सूचना पर सीओ सिटी और कोतवाली देहात प्रभारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से दोनों को हायर सेंटर के लिए रैफर कर दिया गया है।

यह है मामला

गांव दरियापुर निवासी 70 वर्षीय निसार अहमद गांव के बाहर दुकान करते हैं। निसार का 34 वर्षीय पुत्र अफसर बीएसएफ में जैसलमेर में तैनात हैं, जो इन दिनों छुट्टी पर आए हैं। बुधवार रात को निसार अपने पुत्र अफसार के साथ दुकान पर बैठे थे। उसी दौरान लाल रंग की आल्टो कार सवार छह युवक आए। कार में से तीन युवकों ने उतरकर सिगरेट, माचिस और गुटखा लिया। रुपये मांगने पर आरोपितों ने अभद्रता शुरू कर दी। फौजी अफसर ने युवकों को समझाकर जाने के लिए कह दिया।

दो बाइकों पर आए युवक

आरोप है कि कुछ ही देर बाद एक कार और दो बाइकों पर आठ-दस युवक पिस्टल, तमंचे और क्रिकेट बैट लेकर वहां पहुंचे। एक युवक ने क्रिकेट बैट से निसार अहमद के सिर पर प्रहार कर उन्हें घायल कर दिया। फौजी अफसार ने पिता निसार को बचाने का प्रयास किया तो एक आरोपित ने गोली चला दी, जो उसकी दोनों जांघों को भेदते हुए आरपार हो गई। इसके बाद आरोपितों ने निसार अहमद पर भी कई राउंड फायरिंग की।

आरोपित हुए फरार

फायरिंग में निसार के पेट, कंधे और पैर में गोली लगी। गालियों की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों को आता देख आरोपित मौके से फरार हो गए। सूचना मिलने पर देहात कोतवाली प्रभारी अरुणा राय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गईं। दोनों घायलों को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें हायर मेडिकल सेंटर रेफर कर दिया। घायल पिता-पुत्र को दिल्ली ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। देहात पुलिस ने मामले में अज्ञात युवकों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

गालियों के नौ खोखे बरामद

निसार से भतीजे अफजाल ने बताया कि घटनास्थल पर पहुंची पुलिस को ग्रामीणों ने नौ खाली खोखे गालियों के एकत्र कर सौंपे हैं। हालांकि हवाई फायरिंग सहित एक दर्जन से अधिक राउंड फायरिंग की गई।

25 रुपये पर बिगड़ी बात

अफजाल ने बताया कि कार सवारों ने सिगरेट, गुटखा और माचिस खरीदे। पैसे मांगने पर एक युवक ने मोबाइल रखने की बात कही। इंकार करने पर दूसरे आरोपित ने गाली-गलौच कर दी। फौजी ने उन्हें मोबाइल सौंपकर जाने को कहा। इस पर आरोपित आक्रोशित हो गए और मारपीट कर दी और फरार हो गए। बाद में बाइक सवार तीन अन्य साथियों के साथ हथियारों से लैस होकर पहुंचे।

इनका कहना है

कुछ युवकों द्वारा सिगरेट के रुपयों के विवाद में फायरिंग कर दुकानदार और उसके फौजी पुत्र को घायल कर दिया गया है। मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। जल्द ही आरोपितों की पहचान कर गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

- संग्राम सिंह, सीओ सिटी