मेरठ,जेएनएन। सोतीगंज में चोरी के वाहनों का कटान रोकने के लिए एसएसपी ने एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। एसएसपी की गोपनीय जाच में भी सामने आ चुका है कि सोतीगंज और शहर के बाहरी इलाकों में बने गोदामों में चोरी के वाहनों का कटान हो रहा है। कुछ गोदामों को एसएसपी की टीम ने चिह्नित भी कर लिया है ताकि एक साथ सभी स्थानों पर दबिश डाली जा सके। उधर, सोतीगंज में वाहनों का कटान कराने वाले दोनों ठेकेदारों पर भी कार्रवाई की तलवार लटक रही है। माना जा रहा है कि ठेकेदारों पर कार्रवाई के बाद सदर थाने से लेकर क्राइम ब्राच के पुलिसकर्मियों की पोल खुलेगी।

सोतीगंज में चोरी के वाहनों का कटान रोकने के लिए एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने मुहिम चला दी है। एसएसपी ने गोपनीय टीम लगाकर सोतीगंज के कटान के बारे में जानकारी जुटाई है। एसएसपी की जानकारी में आया कि सोतीगंज के साथ-साथ बाहरी इलाकों में बने गोदामों में चोरी के वाहनों को काटा जा रहा है। उसके बाद सोतीगंज में पा‌र्ट्स लाकर बेचे जा रहे हैं। एसएसपी ने सभी गोदामों को चिह्नित भी करा लिया है। वाहन कटान के गोदाम मुंडाली, खरखौदा थाना क्षेत्र के अलावा सदर बाजार के कैंट क्षेत्र में बने हुए हैं। इन गोदामों पर जल्द ही एक साथ छापेमारी की जाएगी। साथ ही सोतीगंज में चोरी के वाहनों के कटान की ठेकेदारी करने वाले दोनों ठेकेदारों पर भी कार्रवाई तय मानी जा रही है। साथ ही पुलिसकर्मियों का पैसा लगाने वाले बिल्डर के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है। अभी तक माना जा रहा है कि बिल्डर के पास जनपद से स्थानातरित हुए कई पुलिसकर्मियों की मोटी रकम लगी हुई है। कुछ पुलिसकर्मी हर माह बिल्डर से मुनाफे का हिस्सा लेकर जाते हैं। इन्होंने कहा-

चोरी के वाहनों का कटान जनपद में जहा-जहा हो रहा है, वे सभी स्थान चिह्नित किए जा रहे हैं। सभी स्थानों पर एक साथ दबिश डाली जाएगी ताकि चोरी के वाहन कटान के इस धंधे को पूरी तरह से खत्म किया जा सके।

प्रभाकर चौधरी, एसएसपी