मेरठ (जेएनएन)। एक टेंपो चालक को प्रेम जाल में फंसाने के बाद युवती ने धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाया। युवक का आरोप है कि पहले तो युवती ने अपनी पहचान छिपाकर हिंदू रीति-रिवाज से आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली, लेकिन अब वह और उसके परिवार वाले ईसाई धर्म अपनाने पर अड़े हुए हैं। युवक ने युवती के परिजनों पर जबरन गोमांस खिलाने का भी आरोप लगाया है।

गंगानगर थाना क्षेत्र के आजाद नगर कसेरूखेड़ा मोहल्ला निवासी विक्रम सिंह पुत्र जयपाल सिंह टेंपो चालक है। उसने बताया कि वह हिंदू ठाकुर बिरादरी से है। करीब एक वर्ष पूर्व टेंपो में उसकी जान-पहचान एक युवती से हो गई। बकौल विक्रम, युवती ने अपने आप को वाल्मीकि समाज से बताया। विक्रम सिंह का दावा है कि प्रेम-प्रसंग के बाद दोनों ने स्वेच्छा से नोएडा के एक आर्य समाज मंदिर में 19 फरवरी को हिंदू रीति-रिवाज से शादी कर ली। विक्रम का आरोप है कि शादी के बाद युवती के सुर बदल गए। उसने अपने आप को ईसाई बताकर धर्म-परिवर्तन करने के लिए दबाव बनाया और फिर से चर्च में जाकर शादी करने की बात कही। आरोप है कि युवती कई बार मंदिर बताकर धोखे से विक्रम को चर्च ले गई और जबरन शादी करने का दबाव बनाया। चार दिन पूर्व युवती के परिवार वालों ने धोखे से घर बुलाकर मारपीट की और धमकाया कि यदि धर्म परिवर्तन नहीं किया तो वह युवती को साथ में नहीं भेजेंगे।

घर पर बुलाकर गोमांस खिलाने का दबाव

विक्रम सिंह ने आरोप लगाया कि करीब सप्ताह भर पूर्व युवती ने अपने घर बुलाकर बातचीत करने के लिए कहा। आरोप है कि जब विक्रम युवती के घर पहुंचा तो उसके परिवार वालों ने धोखे से उसे प्लेट में गोमांस लाकर खाने के लिए कहा। ईसाई धर्म परिवर्तन करने के लिए उन्होंने मकान व नकदी आदि कई प्रकार के प्रलोभन दिए। लेकिन विक्रम किसी तरह वहां से बचकर निकल भागा।

एसएसपी व थाना पुलिस से की शिकायत

टेंपो चालक विक्रम का कहना है कि उसने पूरे मामले की शिकायत एसएसपी व बाद में गंगानगर थाने पर की। लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई। विक्रम ने युवती के अलावा उसके भाई, बहन, मामा, नानी व तीन अन्य युवकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए तहरीर दी है। आरोप है कि गंगानगर पुलिस ने घर का मामला बताकर मामले को दबाने की बात कही। विक्रम का कहना है कि वह हिंदू धर्म में अटूट आस्था रखता है। वह कोई और धर्म नहीं अपनाएगा। उसने इंसाफ की मांग की है।

इनका कहना है

विक्रम नाम का युवक मेरे पास शिकायत लेकर आया था। मैंने दोनों को परिजनों के साथ बुलाया है। पूरे मामले की जानकारी करने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी।

-राकेश कुमार, इंस्पेक्टर, थाना गंगानगर (मेरठ)

Posted By: Ashu Singh