मेरठ (जेएनएन)। डीजे पर लगी रोक हटाकर और कांवड़ियों पर पुष्प वर्षा कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोगों का दिल जीत चुके हैं। अब उनके निर्देश पर अधिकारी वर्ग भी कांवड़ यात्रा के दौरान शिवभक्तों पर पुष्पवर्षा कर रहे हैं। एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार ने मंगलवार को मुजफ्फरनगर और सहारनपुर में कांवड़ मार्ग का हवाई सर्वेक्षण करते हुए भोलों पर आस्था के फूल बरसाए।

कांवडियों की सुरक्षा को 14 लाख के किराये पर लिया गया हेलीकाप्टर

कांवड़ यात्रा के दौरान मेरठ जोन में हेलीकॉप्टर से हवाई निगरानी की जा रही है। अधिकारियों ने कांवड़ यात्रियों पर फूलों की बारिश भी की। शासन ने हेलीकाप्टर से निगरानी के लिए 14 लाख 21 हजार रुपये खर्च किए हैं। गृह विभाग ने हेलीकाप्टर का किराया स्वीकृत किया है। प्रभावी हवाई सर्वेक्षण व निगरानी के लिए दो दिन अयोध्या से बस्ती-गोरखपुर मार्ग पर तथा मेरठ जोन में सात से नौ अगस्त तक हवाई निगरानी के एयर चार्टर सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड से हेलीकाप्टर की बुकिंग की गई है। बुधवार को मेरठ में डीएम-एसएसपी ने कांवड़ मार्ग की हेलीकाप्टर से निगरानी करने के साथ ही फूलों की वर्षा भी की। 

कांवड़ यात्रा का हवाई सर्वेक्षण के निर्देश
एडीजी ने बताया कि उन्हें इनपुट मिला है कि गोमुख और हरिद्वार से लाखों कांवडिय़ां निकल गए हैं। जत्थों के रूप में आने वाले इन कांवडिय़ों की सुरक्षा व्यवस्था देखने के लिए डीजीपी ने तीन दिवसीय हवाई सर्वेक्षण और पुष्प वर्षा के निर्देश दिए हैं। मंगलवार को पहले दिन उन्होंने एएसपी सतपाल आंतिल के साथ हेलीकॉप्टर से मुजफ्फरनगर और सहारनपुर के कांवड़ मार्ग का दौरा किया।

इस दौरान उन्होंने कांवडिय़ों पर पुष्प वर्षा की। आसमान से फूल बरसते देखकर कांवडिय़ों में उल्लास की लहर दौड़ गई। बोल बम के गगनचुंबी नारे लगाए गए। एसपी सिटी रणविजय सिंह ने बताया कि बुधवार को डीएम अनिल ढींगरा व एसएसपी राजेश कुमार पांडेय मेरठ जिले के तमाम कांवड़ मार्गों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। इस दौरान वह फूल भी बरसाएंगे। गुरुवार को एडीजी मेरठ के अलावा बागपत, गाजियाबाद, मोदीनगर आदि स्थानों पर हेलीकॉप्टर से पुष्पवर्षा करेंगे।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस