मेरठ, जेएनएन। अधिवक्ता मुकेश शर्मा हत्याकांड को लेकर सोमवार को मेरठ और जिला बार की संयुक्त आम सभा में पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की गई। बैठक में कहा गया कि पीड़ित परिवार को सुरक्षा उपलब्ध कराई जाये और मामले की निष्पक्ष जांच करके हत्यारों को गिरफ्तार किया जाये। बैठक के बाद अधिवक्ताओं ने मांगो को लेकर एक ज्ञापन भी डीएम को सौंपा।

अधिवक्‍ताओं पर हमले से रोष 

अधिवक्ताओं पर हो रहे हमलों तथा अन्य मामलों को लेकर दोनों संगठनों की यह संयुक्त आम सभा सोमवार को पंडित नानकचंद सभागार में हुई। जिसकी अध्यक्ष संयुक्त रूप से मेरठ बार के अध्यक्ष मांगेराम शर्मा और जिला बार के अध्यक्ष रविंद्र सिंह ने की। सभा में कमालपुर गांव में अधिवक्ता मुकेश शर्मा की गोली मारकर हत्या की घटना पर रोष जताया गया तथा जिला प्रशासन और पुलिस से पीडि़त परिवार की हर संभव मदद करने की मांग की गई। सभा में सर्वसम्मति से चार प्रस्ताव पारित किये गये। जिसमें पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपया आर्थिक सहायता देने तथा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की गई। परिवार को पर्याप्त सुरक्षा देने तथा मामले की निष्पक्ष जांच कराकर दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करके जेल भेजने की मांग की गई।

डीएम को सौंपा ज्ञापन

दोनों अध्यक्षों ने संयुक्त रूप से बताया कि चारों मांगों को लेकर डीएम को ज्ञापन सौंपने का निर्णय लिया गया। साथ ही तय किया गया कि जल्द हत्यारों की गिरफ्तारी न होने पर केंद्रीय संघर्ष समिति की बैठक बुलाकर आंदोलन की घोषणा कर दी जाएगी। सभा के बाद दोनों बार के पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से एक ज्ञापन भी डीएम को सौंपा।  

हत्‍योरोपितों पर इनाम घोषित 

वहीं एसएसपी अजय कुमार साहनी ने बताया कि अधिवक्‍ता मुकेश के हत्‍या‍रोपितों नासिर, फैसल और नारायण पर दस-दस हजार का इनाम घोषित कर दिया गया है।  

Posted By: Taruna Tayal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप