मेरठ ,जेएनएन। चौ. चरण सिंह विश्वविद्यालय और उससे जुड़े कॉलेजों में प्रवेश की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। शनिवार को स्नातक और परास्नातक कक्षाओं में प्रवेश की अंतिम तिथि थी। मेरठ और सहारनपुर मंडल में एक लाख 56 हजार अभ्यर्थियों ने प्रवेश कराया है। विवि ने आगे प्रवेश की तिथि बढ़ाने से मना कर दिया है।

विश्वविद्यालय की जून से ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। मुख्य मेरिट के साथ ओपन मेरिट निकालने के बाद भी निजी कॉलेजों में काफी सीटें रिक्त हैं। स्नातक में करीब एक लाख 67 हजार और परास्नातक में 68 हजार सीटें हैं। इनमें एक लाख 56 हजार अभ्यर्थियों ने प्रवेश सुनिश्चित कराया है। शनिवार को दो हजार अभ्यर्थियों ने प्रवेश कराया। कैंपस और कॉलेजों में जिस कोर्स में आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थी नहीं मिले, उनकी जगह सामान्य अभ्यर्थियों को प्रवेश लिया गया। हालांकि निजी कॉलेजों में बीए, बीबीए, बीसीए जैसे कोर्स में सीटें रिक्त रह गई हैं। लेकिन विवि ने आगे प्रवेश की तिथि बढ़ाने से मना कर दिया है।

---

मेरठ कॉलेज में एलएलबी में प्रवेश नहीं

मेरठ कॉलेज में तीन वर्षीय एलएलबी में 300 सीटों पर प्रवेश की प्रक्रिया अभी तक शुरू नहीं हो पाई है। शनिवार को मेरठ कॉलेज ने विश्वविद्यालय से इसे लेकर संपर्क किया, लेकिन बार काउंसिल ऑफ इंडिया से लेटर नहीं मिलने की वजह से विवि ने मेरठ कॉलेज की एलएलबी की मेरिट को जारी नहीं किया है। विवि की प्रतिकुलपति प्रो. वाई विमला ने बताया कि दो सितंबर को कुलपति से चर्चा करने के बाद कोई निर्णय लिया जाएगा, फिलहाल सभी प्रवेश बंद कर दिए गए हैं।

---

कैंपस में संचालित डिप्लोमा कोर्स

विवि में रसियन, फ्रेंच आदि विषयों में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स संचालित हैं। विश्वविद्यालय ने केवल कैंपस के डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स में प्रवेश की अनुमति दी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस