शामली, जेएनएन। उत्‍तर प्रदेश के शामली में एक दर्दनाक हादसा हो गया। एक मासूम के नाले में गिर जाने से उसकी मौत हो गई। इस घटना से परिवार में कोहराम मचा गया। मां और परिजनों का रो-रोकर बूरा हाल है। चार साल की मासूम बच्‍ची घर से लापता हो गई थी, जिसकी तलाश की जा रही थी। सफाई के दौरान उसका शव नाले से बरामद हुआ। आक्रोशित परिवार वालों ने तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन किया।

मोहल्ला अफगानान घोसाचुंगी में गुरुवार सुबह नगरपालिका के कर्मचारी नाला सफाई कर रहे थे। इसी दौरान नाले से एक बच्ची का शव बरामद हुआ। मृतका की शिनाख्त फाइमा पुत्री इस्लाम निवासी मोहल्ला अफगानान घोसाचुंगी के रूप में हुई। स्वजन बिना कानूनी कार्रवाई के शव को घर ले गए। स्वजन के मुताबिक, बच्ची बुधवार देर रात लापता हो गई थी। काफी तलाश के बाद भी वह नहीं मिली।

इसके बाद परिवार वाले और दर्जनों मोहल्लेवासियों ने तहसील मुख्यालय पर नगरपालिका के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने एसडीएम को दिए ज्ञापन में कहा कि नगरपालिका द्वारा बनाए गए चार फीट गहरे इस नाले में पूर्व में भी कई बच्चों के साथ वारदात हो चुकी हैं। कई पशु भी नाले में गिरकर मर चुके हैं। उन्होंने नाले की चारों ओर से बंदिश कराने तथा पीडि़त परिवार को आर्थिक सहायता दिलाने की मांग की है।

इस दौरान कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष अब्दुल हफीज, जिला महासचिव मुस्तकीम मल्लाह, डा. मुनव्वर, सलमान राणा, राशिद चौधरी, इमरान , मो. उमर, बासिद राणा, अहसान, रमजानी, अजीम, असगर मौजूद रहे।

यह दर्दनाक हादसा है। पालिका के अवर अभियंता को मौके पर जांच करने और रिपोर्ट प्रेषित करने के निर्देश दिए हैं। हादसों की पुनरावृत्ति पर सख्ती से रोक लगाने के प्रभावी कदम उठाए जाएंगे।

-उद्भव त्रिपाठी, एसडीएम/ईओ पालिका 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021