मेरठ,जेएनएन। गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में आरोपित बनाए गए हाजी गल्ला पर एसएसपी ने 25 हजार का इनाम घोषित किया है, जबकि इकबाल की फाइल तैयार है। दोनों के खिलाफ वारंट जारी कराने के लिए अदालत में अर्जी लगा दी गई है। साथ ही उनके स्वजन की धरपकड़ के लिए घरों पर दबिश जी जा रही है।

सोतीगंज में चोरी के वाहनों का कटान रोकने के लिए एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने सभी कबाड़ियों पर कानूनी शिकंजा कस दिया है। पुलिस रिकार्ड में नामित चोरी के वाहन कटाने वाले हाजी नईम उर्फ गल्ला और इकबाल के स्वजन समेत 14 कबाड़ियों पर गैंगस्टर की कार्रवाई की जा चुकी है। ज्यादातर कबाड़ी घरों से फरार चल रहे है। फरार आरोपितों की कुर्की के लिए कोर्ट में पुलिस की तरफ से अर्जी लगा दी गई है। साथ ही गैंगस्टर एक्ट में 14 (1) सीआरपीसी में कार्रवाई करते हुए पुलिस आरोपितों की संपत्ति जब्तीकरण की कार्रवाई भी शुरू कर दी है।

इसके बाद भी हाजी गल्ला और इकबाल स्वजन के साथ घरों से फरार हैं। लगातार दबिश के बाद भी उनकी गिरफ्तारी नहीं हो पा रही है। इकबाल पर इनाम के लिए फाइल तैयार करा ली गई है। इसके बाद गल्ला और इकबाल के बेटों पर इनाम किया जाएगा। दोनों के खिलाफ कोर्ट में वारंट की अर्जी भी लगा दी है। इंस्पेक्टर ब्रिजेश कुशवाह का कहना है कि कोर्ट से दोनों की संपत्ति कुर्क करने की माग की गई है। कोर्ट का आदेश मिलने के बाद संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई भी की जाएगी। दोनों से संपर्क भी किया जा रहा है। स्वजन भी पुलिस की सहायता नहीं कर रहे हैं।

इनका कहना है..

इकबाल और हाजी गल्ला समेत गैंगस्टर एक्ट में आरोपित बने कबाड़ियों की फरारी पर संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई की जा रही है। गल्ला की फरारी पर 25 हजार का इनाम घोषित किया गया है। बाकी आरोपितों पर भी जल्द इनाम किया जाएगा।

-प्रभाकर चौधरी, एसएसपी।

Edited By: Jagran