मेरठ, जागरण संवाददाता। मेरठ में अभी डेंगू का कहर थमता नजर नहीं आ रहा है। डेंगू मरीजों की संख्या आठ सौ पार कर गई है। शुक्रवार को 15 नए मरीज मिले। जिनमें ग्रामीण क्षेत्र के सात एवं शहरी क्षेत्र के आठ मरीज पाए गए हैं। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि डेंगू संक्रमण नियंत्रण में लग रहा है। सप्ताहभर पहले रोजाना 30 से ज्यादा मरीज मिल रहे थे, जो संख्या अब आधी रह गई है। जिले में डेंगू मरीजों की कुल संख्या 822 हो चुकी है।

घरों में भी की जा रही जांच

ग्रामीण क्षेत्रों में अब तक 398, जबकि शहरी क्षेत्र में 424 मरीज मिले हैं। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि बुखार के मरीजों की स्क्रीनिंग की जा रही है। बड़ी संख्या में मरीज गांवों में हैं, जिन्हें जांच के लिए प्रेरित किया जा रहा है। मलेरिया विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक 68 हजार से ज्यादा घरों में बर्तन, कूलर एवं पात्रों की जांच की जा चुकी है। बुखार, ठंड, बदन दर्द, आंख के पीछे दर्द, उल्टी, दस्त, खांसी एवं कमजोरी के लक्षण उभरने पर चिकित्सक से तत्काल परामर्श करना चाहिए। हालांकि स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की ओर से लगातार लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

कोरोना को हराने को महज 512 ने लगवाया टीका

मेरठ : जिले में शनिवार को कोरोना संक्रमण से पूर्ण सुरक्षा प्रदान करने के लिए दूसरी डोज के बकाया लाभार्थियों को विशेष टीकाकरण अभियान के तहत टीका लगाया जाएगा। इसमें 22800 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. प्रवीण गौतम ने बताया कि इस लक्ष्य को पाने के लिए जिले भर मेें 93 केंद्रों के तहत टीका लगाया जाएगा। जिसमें करीब तीस केंद्रों पर कोवैक्सीन की 6300 डोज व शेष केंद्रों पर कोविशील्ड की 16500 डोज लगाने का लक्ष्य रखा है। उधर, शुक्रवार को चले टीकाकरण अभियान में सात हजार के लक्ष्य के सापेक्ष कुल 512 लोगों ने टीका लगवाया।

1838 सैंपलों की जांच में कोई संक्रमित नहीं

मेरठ : शुक्रवार को जिले में 1838 सैंपलों की जांच की गई, जिसमें कोई भी संक्रमित नहीं मिला। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि अब जिले में कोरोना संक्रमण से ग्रसित सक्रिय मरीज पांच रह गए हैं। इनमें चार मरीज विभिन्न अस्पतालों में भर्तीं है और एक मरीज होम आइसोलेशन पर है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt