मेरठ, [विवेक राव]। Fitness Mantra 24 घंटे की भागदौड़ से पहले अगर हम सुबह सिर्फ एक घंटे शारीरिक व्यायाम और योग को दे दिया। तो दिनभर की भागदौड़ के बावजूद भी शरीर में फुर्ती और ताजगी बनी रहेगी। कोविड महामारी ने लोगों को इतना तो सिखा ही दिया कि अगर सेहत सही है। तो सब कुछ सही है। इसके बाद से कुछ लोग जो पहले शारीरिक व्यायाम, योग नहीं करते थे। उन लोगों ने भी अपनी दिनचर्या में इसे शामिल किया है। शहर में ऐसे बहुत से लोग हैं जो पिछले कई सालों से व्यायाम योग के महत्व को समझते हुए अपनी दिनचर्या में उसे शामिल कर चुके हैं फिटनेस मंत्र के अंतर्गत आज साकेत के रहने वाली 58 वर्षीय मधु मित्तल ने अपनी फिटनेस और दिनचर्या को साझा किया है।

10 वर्ष से योग और अभ्यास

मधु मित्तल पिछले 10 वर्ष से योगाभ्यास व जिम में वर्क आउट कर रहीं हैं। सुबह मौसम के अनुसार जल्दी उठ कर प्रतिदिन कम से कम एक घंटा व्यायाम करती हैं। इससे उनके शरीर में लचीलापन रहता है। साथ में ऊर्जा प्राप्त होती है। किसी भी प्रकार की बीमारी से अपना बचाव करती हैं। कोरोना महामारी के दौरान मधु मित्तल योगाभ्यास से अपने को इस बीमारी से बचा कर रखा।

क्लब की एक्टिव सदस्य

मधु मित्तल रोटरी क्लब से ऐनी आफ द ईयर अवार्ड से सम्मानित हो चुकी हैं। वह महिला क्लब की सबसे एक्टिव सदस्य हैं। वह अपने अभ्यास से दूसरों को भी फिट रखने का संदेश देती हैं। सभी को व्यायाम करने के लिए प्रेरित भी करती हैं। वह कहती हैं कि आपका शरीर ही आपका सबसे बड़ा मित्र या शत्रु बन सकता है। बस यह आप पर निर्भर करता है कि आप क्या चाहते हैं।शरीर अगर सही रहेगा तो ही आप कोई भी काम अच्छे से कर पाएंगे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप