मेरठ, जेएनएन। नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125 वीं जयंती के अवसर पर शुक्रवार को पर्यावरण एवं स्वच्छता क्लब द्वारा मेरठ कॉलेज के सामने स्थित नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पर स्वच्छता अभियान चलाया गया। तत्पश्चात माल्यार्पण कर नेताजी सुभाषचंद्र बोस को नमन किया गया।

क्लब निर्देशक आयूष गोयल पीयूष गोयल ने बताया कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस का मानना था कि भारत से अंग्रेजो की ग़ुलामी को खत्म करने के लिए सशस्त्र विद्रोह ही एकमात्र रास्ता हो सकता है। वे अपनी इसी विचारधारा पर जीवन पर्यंत चलते रहे। उन्होंने आजाद हिंद फौज के नाम से एक ऐसी फौज खड़ी जो दुनिया में किसी भी सेना को टक्कर देने की हिम्मत रखती थी।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस जीवन पर्यंत सच्चाई, कर्तव्य, और बलिदान की नीति पर चले। विपुल सिंघल ने बताया कि नेताजी ने "जय हिंद" व "तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा", जैसे नारे दिये जिन्होंने पूरे भारत की जनता कोजोश एवं स्फूर्ति से भर दिया इस अवसर पर विपुल सिंघल, प्रथम अग्रवाल, आर के गोयल, सागर,सोनू आदि मौजूद रहे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप