मेरठ, [विवेक राव]। Fitness Mantra सेहत सही रखने के लिए कुछ लोग योग करते हैं। कुछ लोग व्यायाम करते हैं, तो कुछ लोग ध्यान लगाते हैं। कुछ लोग जिम में भी जमकर पसीने बहाते हैं। कोरोना के आने के बाद लोग और भी सजग और सतर्क हुए। भागदौड़ के जिंदगी से थोड़ा वक्त निकाल कर वह योगाभ्यास और व्यायाम कर रहें हैं। वहीं, शहर में कुछ ऐसे लोग भी हैं जो अपनी सेहत को सही रखने के लिए उल्टी चाल भी चलते हैं। इस उल्टी चाल से वह अपनी सेहत को तो सही रख ही रहें। साथ ही सामाजिक संदेश भी दे रहें हैं। सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश तलवार हर दिन सुबह की शुरुआत उल्टी चाल से करते हैं। उन्होंने अपने दिनचर्या को साझा भी किया है।

आगे नहीं पीछे कदम से दौड़

दिनेश तलवार सुबह घर के आस-पास 15 मिनट तक उल्टा चलते हैं। पिछले कई साल से कभी धीमी तो कभी तेज रफ्तार से उल्टी दौड़ लगाते हैं। इससे पूरे शरीर का अभ्यास हो जाता है। बार- बार पीछे देखने से गले का भी अभ्यास हो जाता है। वह बताते हैं कि इस तरह 15 मिनट की दौड़ से यह फायदा होता है कि दिन भर काम करने की शक्ति मिलती है। भूख भी ज्यादा लगती है।

कभी- कभी दो किलोमीटर की दौड़

वह बताते हैं कि दिन में भी करीब दो किलोमीटर पैदल रोजाना चला करते हैं। इस शरीर को स्वस्थ रखने के लिए रोजाना चलना जरूरी है। मैं जब उल्टा चलता हूँ । शरीर पर जोर भी पड़ता है। मेरा स्वास्थ्य बिल्कुल अच्छा रहता है। बहुत से लोग जब बीमार होते हैं तो एक्सरसाइज शुरू करते हैं। मेरा मानना है कि हर एक व्यक्ति को 24 घंटे में सिर्फ आधा घंटा अपने शरीर को अवश्य देना चाहिए। इसमें जरूरी नहीं है कि हम बहुत कठिन व्यायाम करें या जिम में पसीने पसीने हो जाएं। दिनेश तलवार कहते हैं कि सुबह की दौड़ से बीपी, शुगर, तनाव जैसी समस्या नहीं रहती। शरीर की क्षमता भी बढ़ती है। वह उल्टी चाल चलकर समाज में जनसंख्या नियंत्रण और बेटी बचाओं- बेटी पढ़ाओं के लिए जागरूकता अभियान भी चला रहें हैं।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप