मेरठ, जेएनएन। Communal Ruckus मेरठ में सरधना के तहसील रोड पर दोनों समुदाय के लोग लाठी-डंडे लेकर सड़कों पर आ गए थे। कुछ लोगों के हाथों में धारदार हथियार भी थे। पुलिस समय से न पहुंचती तो बड़ा बवाल हो सकता था। पुलिस के सामने ही दोनों समुदाय के लोग पत्थर बरसा रहे थे। पुलिस ने पथराव के दौरान भाग कर जान बचाई।

देररात तक बैठक

सरधना पुलिस ने वायरलेस सेट पर मामले की जानकारी कंट्रोल रूम को दी। इसके बाद एसपी देहात और सीओ मौके पर पहुंचे। रोहटा, सरूरपुर और दौराला से पुलिस बल मौके पर भेजा गया। इतनी फोर्स के पहुंचने पर स्थिति नियंत्रित हुई। गढ़ी खटीकान और जगमोहन नगर मोहल्लों में पुलिस बल तैनात कर दिया है। दोनों पक्षों के लोगों की अपने-अपने घरों पर देर रात तक बैठक चली।

कार्रवाई की मांग

विधायक संगीत सोम के कार्यालय में भी एक पक्ष के लोग देर रात तक कार्रवाई की मांग करते रहे। हालांकि विधायक ने लोगों को समझाकर शांत कर दिया। विधायक ने बताया कि सचिन उनके कार्यालय में काम करता है। वह सोम सेना का प्रदेश अध्यक्ष नहीं है। दोनों समुदाय में हुए विवाद के चलते मौके पर पहुंचे थे। दोनों पक्षों के लोगों को समझाकर शांत कर दिया है। किसी भी पक्ष की तरफ से थाने में कोई तहरीर नहीं दी गई है।

इनका कहना है

सरधना में मामूली बात को लेकर दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए थे। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कर दिया है। दोनों तरफ से आई तहरीर के बाद पुलिस कार्रवाई कर रही है। सीओ को मौके पर ही कैंप करा दिया गया है।

- अजय साहनी, एसएसपी 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021