मेरठ, जेएनएन। Meerut Weather Forecast वेस्‍ट यूपी के कई जिलों में अब शीत लहर का प्रकोप बढ़ने लगा है। गुरुवार को भी सुबह की शुरुआत कोहरे और ठंड के साथ हुई। बुधवार को दिनभर धूप बादलों के बीच ही छिपी रही। मौसम विभाग के अनुसार अभी चार या पांच दिनों तक मौसम के ऐसे ही बने रहने की संभावना है। इस बीच पहाड़ों पर हिमपात, और पश्चिमी विक्षोभ कमजोर होने से मुजफ्फरनगर, मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा, दिल्ली, हापुड़, बुलंदशहर, बागपत आदि जिले अगले चार-पांच दिन खासे ठंडे रहेंगे। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को मुजफ्फरनगर प्रदेश का सबसे ठंडा जिला रहा था, यहां का न्यूनतम तापमान 6.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया था। मेरठ का न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस था। मेरठ में धूप की तपिश भी ना के बराबर थी, शाम होते ही हवा सुई की तरह चुभने लगी।

रात में भी बढ़ी ठिठुरन

मेरठ में सरदार वल्लभभाई कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. यूपी शाही ने बताया कि उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में हिमपात की वजह से इन प्रदेशों से सटे शहरों में बारिश की संभावना है। उत्तराखंड में हिमपात होने से बिजनौर, सहारनपुर और मुजफ्फरनगर में 25 व 26 नवंबर को हल्की बारिश हो सकती है। इससे तीनों शहरों में वायु प्रदूषण का लेवल भी काफी गिर जाएगा। अगले चार, पांच दिन मेरठ और दिल्ली समेत एनसीआर के अन्य कई शहरों में इसी तरह ठंड बनी रहेगी, रात का तापमान गिरने से ठिठुरन बढ़ेगी। इस बीच डाक्‍टरों ने इस बढ़ती सर्दी के बीच बचाव की राय दी है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021