मेरठ। बेखौफ बदमाश पुलिस के इकबाल को चुनौती दे रहे हैं। मंगलवार दोपहर कंकरखेड़ा व मोदीपुरम क्षेत्र में बदमाशों ने एक के बाद एक महिलाओं से पर्स लूट की तीन वारदातों को अंजाम दिया। कई थानों की पुलिस को बदमाशों ने घंटों तक छकाया।

पल्लवपुरम फेज-वन निवासी विधिका शर्मा परिचित धर्मेद्र के साथ बाइक पर जा रही थी। मेरठ-करनाल हाईवे पर जंगेठी गांव के सामने काली पल्सर सवार दो बदमाशों ने झपट्टा मारकर पर्स लूट लिया। पर्स में 15 सौ रुपये और जरूरी कागजात थे। इसके अलावा बदमाशों ने रोहटा रोड पर टेंपो से उतरते हुए कंकरखेड़ा निवासी शैफाली का पर्स लूट लिया। पर्स में 12 सौ रुपये, मोबाइल व कागजात थे। इसके बाद बदमाशों ने मोदीपुरम पुलिस चौकी के पास टेंपो से उतरी दौराला निवासी अनीता से भी पर्स छीन लिया। उसमें छह हजार रुपये, दो मोबाइल व अन्य सामान था। लूट की घटनाओं को अंजाम देकर बदमाश सरधना क्षेत्र से होते हुए रोहटा की ओर फरार हो गए। वहां से कंकरखेड़ा की तरफ मुड़ गए। कई थानों की पुलिस घंटों तक बदमाशों का पीछा करती रही, लेकिन वे हाथ नहीं आए।

पल्सर सवार बदमाशों ने की लूट, पुलिस ने अपाचे सवार पकड़े

बदमाशों के पीछे कंकरखेड़ा, पल्लवपुरम, सरधना, रोहटा थानों की पुलिस लगी थी। लखवाया के पास सफेद रंग की अपाचे सवार दो युवकों को पुलिस ने पकड़ लिया। रोहटा पुलिस उन्हें साथ ले गई। थाने में उनकी पिटाई की गई। सीओ दौराला जितेंद्र कुमार भी पहुंच गए। पुलिस दोनों को कंकरखेड़ा व मोदीपुरम में पर्स लूटने वाला बताकर जेल भेजने की तैयारी में लग गई। मामला मीडियाकर्मियों तक पहुंची तो पुलिस बैकफुट पर आ गई। बाइक सवारों के नाम आमिर पुत्र रईस और साबिर पुत्र नूर निवासी शौकत कालोनी थाना लिसाड़ी गेट हैं। बाइक आमिर के भाई के नाम है। लूटा गया कोई सामान उनके पास से नहीं मिला। वहीं, पीड़ित महिलाओं के अनुसार उनसे लूट करने वाले काले रंग की पल्सर पर थे। वहीं सीओ दौराला जितेंद्र कुमार का कहना है कि बदमाशों की सूचना पर घेराबंदी कर दो युवकों को पकड़ा गया। मैंने भी रोहटा थाने जाकर पूछताछ की। दोनों नशे में लग रहे थे। फिलहाल उनसे पूछताछ की जा रही है। जांच में जो भी सामने आएगा, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

मामूली बात पर चालक-परिचालक पर हमला, नकदी-मोबाइल लूटे

भैंसाली बस अड्डे में सोमवार देर रात चालक-परिचालक से नकदी व मोबाइल लूट लिया। विरोध करने पर हमलावरों ने लाठी-डंडों से उन पर हमला बोल दिया। परिचालक ने मामले की तहरीर दी है।

थाना मोदीनगर के गांव उसैड़ी निवासी कविंद्र गाजियाबाद डिपो की अनुबंधित बस पर परिचालक है। इसी बस पर थाना ककोड़ बुलंदशहर के गांव हिनोठी निवासी सलीम चालक है। कविंद्र ने बताया कि सोमवार रात करीब 11 बजे बस दिल्ली से मेरठ भैंसाली अड्डे पहुंची थी। वहां बस खड़ी करने को लेकर दूसरी बस के मालिक से सलीम का विवाद हो गया। आरोप है कि उसने अपने दो चालकों के साथ मिलकर सलीम पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया। सलीम को लहुलूहान देख वह बीच-बचाव के लिए दौड़ा तो हमलावर उस पर भी हमला कर दिया। आरोप है कि उससे 8400 रुपये व मोबाइल लूट लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सलीम को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। कविंद्र मंगलवार दोपहर अपनी बस के मालिक नरेंद्र सिंह निवासी सिकंदराबाद के साथ सदर बाजार थाने पहुंचा और तहरीर दी। एसओ विजय गुप्ता का कहना है कि मोबाइल व कैश लूटने का आरोप लगाया गया है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप