जागरण संवाददाता, वलीदपुर (मऊ) : मुहम्मदाबाद गोहना-घोसी मुख्य मार्ग से होकर रामनगर मोड़ होते हुए जीयनपुर मुख्य सड़क की हो रही पिचिग कार्य में अनियमितता बरते जाने का आरोप लगा ग्रामीणों ने गुरुवार को निर्माण कार्य रोक दिया। निर्माण कार्य में घटिया सामग्री का प्रयोग होने पर जमकर विरोध-प्रदर्शन किया। फोन कर संबंधित विभाग के अधिकारियों को ग्रामीणों ने मौके पर बुलाया लेकिन घंटों बाद तक कोई नहीं पहुंचा। तत्पश्चात नवागत एसडीएम मनोज कुमार तिवारी को बुलाने का प्रयास किए। एसडीएम ने संभ्रांत लोगों को अपने कार्यालय में बुलाकर वार्ता की। आश्वासन दिया कि समस्याओं को जिले के आलाधिकारियों के समक्ष रखा जाएगा।

वलीदपुर मोड़ से जीयनपुर को जाने वाली मुख्य सड़क काफी जीर्ण-शीर्ण हो चुकी है। गिट्टियां उखड़कर बड़े-बड़े गड्ढे में तब्दील हो चुकी हैं। इससे राहगीरों को आने-जाने में लोगों को दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। इस मार्ग से गुजरने वाले लोग आए दिन सड़क दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। तीन दिन पूर्व दर्जनों नागरिकों ने खिरिया मोड़ पर जमकर विरोध-प्रदर्शन भी किया था। नगर में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के संभावित आगमन को लेकर जमकर तैयारियां चल रही हैं। नगर में आने वाले सभी मार्गों की साफ-सफाई एवं सड़क के किनारे पेड़ों की डाल की कटाई युद्धस्तर पर किया जा रहा है। राज्यपाल को सब कुछ ठीकठाक दिखे इसके लिए जर्जर सड़क पर पैच किया जा रहा था। मानक की अनदेखी कर मरम्मत के कार्यों में सिर्फ खाना पूर्ति हो रही है। इसे देखकर लोगों के सब्र का बांध टूट गया और दर्जनों की संख्या में मोहल्ला प्रासखांड़ व वलीदपुर मोड़ के बीच मौके पर पहुंच कर कार्य को जबरन रोकवा दिया। विरोध प्रदर्शन करने वालों में समाजसेवी प्रेमचंद गुप्ता, वीरेंद्र कुमार राव, स्वतंत्र कुमार गुप्ता, अजय कुमार चौरसिया, गौरव गुप्ता, मोनू आदि थे।

Edited By: Jagran