जागरण संवाददाता, मऊ : कोविड से बचाव के लिए शनिवार को आयोजित टीकाकरण में बारिश के बाद भी लोग पहुंचे। हालांकि कुछ केंद्र पर युवाओं में कोरोना से निजात के लिए काफी उत्साह दिखा। कुल तीन दर्जन केंद्रों पर आयोजित किया गया। इस दौरान 45 वर्ष से अधिक उम्र के 1389 और 18 वर्ष से अधिक के 2161 सहित कुल 3350 लोगों को टीका लगाया गया।

घोसी में सीएचसी घोसी पर 45 वर्ष से अधिक आयु के 47 लोगों को जबकि 18 वर्ष से 45 वर्ष के 77, पीएचसी मझवारा में 18 से 45 वर्ष के 231 को वैक्सीन लगी। बोझी प्रतिनिधि के अनुसार, सीएचसी बड़रांव में 18-45 वर्ष की आयु के 151 और 45 वर्ष से अधिक आयु के 43 लोगों को वैक्सीन लगी। पीएचसी अमिला और नदवासराय में 10-10 को जबकि मादी सिपाह में 30 को वैक्सीन लगी। वही हेमई-पिपरी में आयोजित विशेष शिविर में 50 ग्रामीणों को वैकसीन लगी। दोहरीघाट प्रतिनिधि के अनुसार, सीएचसी दोहरीघाट में 18-45 वर्ष वर्ग आयु के 487 लोगों को को कोविड से बचाव के लिए वैक्सीन लगाई गई।

पुराघाट के कोपागंज सीएचसी एवं एक पीएचसी पर 18 तथा 45 वर्ष के 493 लोगों का टीकाकरण किया गया। शनिवार को सीएचसी पर रिकार्ड 18 पार के 327 युवाओं ने टीका लगवाया। वही 45 वर्ष के ऊपर के 127 लोगों ने टीकाकरण कराया। पीएचसी अदरी में 41 लोग शामिल थे। रामपुर बेलौली : फतहपुर मंडाव ब्लाक में कुल 556 लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया। इसमें 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों में सीएचसी फतहपुर मंडाव 200, पीएचसी मधुबन 154 एवं पीएचसी दुबारी पर 123 लोगों को टीका लगा। इसके अलावा 45 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों को सीएचसी फतहपुर मंडाव 50 एवं पीएचसी मधुबन पर 29 लोगों को टीका लगाया गया।

पांच स्वस्थ, शून्य रहा संक्रमण

मऊ : कोविड-19 की जांच में शनिवार को एंटीजन और लैब सहित 1851 की जांच कराई गई। इसमें संक्रमण शून्य रहा, जबकि पांच लोग स्वस्थ हुए।

Edited By: Jagran