जागरण संवाददाता, नौसेमरघाट (मऊ) : मनरेगा में नित्य हो रहे अनियमितता के राजफाश पर अब विकास भवन भी गंभीर हो गया है। परदहा के ताजपुर पतिला में मनरेगा से पोखरा खोदाई मद में किए गए लाखों की अनियमितता पर ब्लाक के नोडल अधिकारी के नेतृत्व में त्रि-स्तरीय कमेटी गठित हुई है। टीम ने एपीओ मनरेगा व ग्राम सचिव से संबंधित अभिलेख तलब किए हैं। उधर विकास भवन के मनरेगा सेल ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे व वाराणसी-गोरखपुर फोरलेन के लिए पोखरों से हुई खोदाई की रिपोर्ट तलब की है।

परदहा ब्लाक के ताजपुर पतिला ग्राम पंचायत में भैसही नदी किनारे लगभग तीन हेक्टेयर के चारागाह की जमीन को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे निर्माण में जेसीबी व पोकलेन से गहरी खोदाई वित्तीय वर्ष 2018-19 व 19-20 में हुई थी। इसमें लगभग 10 लाख रुपये का भुगतान कराया गया था। दैनिक जागरण ने 16 मई के अंक में 'चारागाह की खोदी गई मिट्टी को दिखा दिया पोखरा' शीर्षक से छपी खबर पर ब्लाक सहित विकास भवन में खलबली मच गई। अब प्रशासन ने पूरे मामले की जांच के लिए परदहा के नोडल अफसर जिला कृषि अधिकारी उमेश कुमार के नेतृत्व में खंड विकास अधिकारी धीरेश कुमार गुप्ता व आरइएस के जेई रवि कुमार की त्रि-स्तरीय जांच कमेटी गठित किया है। गठित कमेटी ने मनरेगा के पूरे अभिलेख को एपीओ व ग्राम सचिव से तलब किया है। इधर विकास भवन ने भी अनियमितता के मामले पर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे किनारे वाले ब्लाक रानीपुर, मुहम्मदाबाद गोहना व परदहा के साथ ही वाराणसी-गोरखपुर फोरलेन के किनारे वाले परदहा, कोपागंज, घोसी व दोहरीघाट के ऐसी ग्राम पंचायतों की सूची तलब की है।

-------------------------

बबुआपुर में धमकी मनरेगा लोकपाल, मनरेगा की जांच शुरू

परदहा विकास खंड की ग्राम पंचायत बबुआपुर में पूर्व प्रधान द्वारा की गई धांधली की शिकायत लोकपाल विनीता पांडेय को शासन से 11 मई को प्राप्त हुई। इसमें ग्रामवासी चेतन चौहान व दूसरी शिकायत हरेंद्र राम ने पूर्व प्रधान के नाली, खड़ंजा, पटिया, ह्यूम पाइप, आरसीसी, इंटरलाकिग, चकरोड आदि कार्यों पर फर्जी भुगतान संबंधित शिकायत किया गया था। इसमें जनपद स्तर से 30 अक्टूबर को त्रि-स्तरीय जांच कमेटी गठित की थी पर कोई जांच नहीं हुई। इस पर शासन से पत्र प्राप्त होने पर लोकपाल ने गुरुवार को स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान एक-एक शिकायतों को देखा गया। लोकपाल ने एपीओ अनूप कुमार, तकनीकी सहायक सत्यप्रकाश दूबे, रोजगार सेवक बृजेश चौहान से समस्त अभिलेख तलब किया गया। इस अवसर पर उप निरीक्षक कृष्णप्रताप सिंह, कांस्टेबिल पंकज कुमार, ओमप्रकाश उपस्थित थे।

Edited By: Jagran