जागरण संवाददाता, मऊ : गणतंत्र दिवस के मद्देनजर रेलवे की संपत्ति एवं यात्रियों की सुरक्षा को लेकर आरपीएफ एवं जीआरपी की टीमें अलर्ट हैं। मंगलवार को मऊ एवं इंदारा जंक्शन पर आरपीएफ एवं जीआरपी ने संयुक्त रूप से ट्रेनों एवं रेलवे स्टेशन की सर्कुलेटिग एरिया में तलाशी अभियान चलाया, जिसे लेकर यात्रियों में अफरा-तफरी मची रही। सुबह एवं दोपहर में चली इस कार्रवाई से बेटिकट यात्रा करने वालों में भगदड़ की स्थिति बनी रही। इसे देख बुकिग खिड़की से टिकटों की मांग बढ़ गई।

आरपीएफ प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार सिंह ने कहा कि यात्रियों एवं रेलवे संपत्ति की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जा सकता। रेलवे स्टेशन पर आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को आने का सही कारण और दस्तावेज उपलब्ध कराना होगा। अपने प्रियजनों को ट्रेनों में बैठाने आने वाले लोग बिना प्लेटफार्म टिकट लिए हुए यदि आते हैं तो जुर्माना लगाने के अलावा कोई सुनवाई नहीं होगी। कहा कि किसी यात्री के पास कहीं कोई ज्वलनशील पदार्थ न हो इसे लेकर कृषक, ईएमयू, पैसेंजर, इंटरसिटी एक्सप्रेस सहित आधा दर्जन ट्रेनों की विभिन्न बोगियों एवं प्लेटफार्म पर बैठे संदिग्ध नजर आए लोगों के सामान की तलाशी मेटल डिटेक्टर के माध्यम से कराई गई। इसके अलावा ट्रेनों में बिना मास्क बैठे कई लोगों को कड़ी चेतावनी देने के साथ ही मास्क लगाने के प्रति जागरूक भी किया गया। रह-रह कर हुई कार्रवाई के बाद स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकट की बिक्री बढ़ गई। इस अवसर पर जीआरपी थानाध्यक्ष दीपक कुमार चौधरी पूरी टीम के साथ उपस्थित थे।

Edited By: Jagran