जागरण संवाददाता, रामपुर बेलौली (मऊ): कोरोना के बढ़ते संक्रमण से अभिभावक अपने नौनिहालों की पढ़ाई को लेकर चितित नजर आ रहे हैं। अब स्कूलों में आफलाइन पढ़ाई चल रही थी। जो धीरे-धीरे अब पटरी पर आने लगी में थी। छात्र पूरी मेहनत के साथ पढ़ाई कर रहे थे कि इसी बीच उनकी पढ़ाई पर कोरोना की नजर लग गई।

संक्रमण को लेकर स्कूल फिर से बंद हो गए। इसका खतरा बरकरार रहा तो आगे लंबी छुट्टी हो सकती है। इसको लेकर छात्रों व अभिभावकों को चिता सताने लगी है। पिछले साल लंबे समय तक आनलाइन कक्षाओं के जरिए पढ़ाई हुई थी। जिसमें ग्रामीण परिवेश के गरीब बच्चों को स्मार्ट फोन, नेटवर्क की समस्या आदि तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम हो जाने पर आनलाइन की जगह आफलाइन पढ़ाई शुरू हुई। शिक्षक छात्रों से सीधे मुखातिब होकर अध्ययन अध्यापन में आनंद लेने लगे। इधर कोरोना संक्रमण की गति बढ़ती ही जा रही है। इससे आफलाइन पढ़ाई पर दोबारा ग्रहण लगने की आशंका है। राजेश प्रजापति, अभिनय शरण, दिनेश भारती, चंदा देवी, महेंद्र आदि अभिभावक ने बच्चों की पढ़ाई को लेकर चिता जताई है।

Edited By: Jagran