जागरण संवाददाता, मुहम्मदाबाद गोहना (मऊ) : नगर पंचायत मुहम्मदाबाद गोहना में दु‌र्व्यवस्थाओं का अंबार लगा हुआ है। कहीं नाली जाम तो कहीं टूटी पटिया नगर पंचायत के सफाई व्यवस्था व विकास की पोल खोल रही है।

नगर पंचायत में कुल 18 वार्ड हैं। ज्यादातर वार्डों में गंदगी, नाली जाम, टूटी पटिया, साफ सफाई ना होना आम बात हो चली है। नगर पंचायत द्वारा जगह-जगह स्वच्छता का बोर्ड तो लगा दिया गया है परंतु स्वच्छता का पालन कहीं होता नहीं दिख रहा है। कई मोहल्लों में तो नाली जाम की जाम पड़ी रहती है और सफाई कर्मचारी पहुंचते ही नहीं है। सफाई कर्मचारी पहुंचते भी है तो महीनों में एक से दो दिन ही दिखाई देते हैं। इससे ज्यादातर नालियां मोहल्ले वासी खुद साफ किया करते हैं। नगर पंचायत स्थानीय के वार्ड नंबर एक फरीदपुर मोहल्ले में जाने वाले विभिन्न मार्गों की पटरियां पूरी तरह से गायब हो चली है। इंटरलॉकिग जगह-जगह धंस गई है तथा मोहल्ले में जाने वाला मुख्य सड़क के बीच बीच में बड़े-बड़े गड्ढे में तब्दील हो गया है। इससे आने वाले जाने वाले मोहल्लेवासियों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। विजय स्तंभ चौक से लगभग 100 मीटर पूरब तरफ डोम डेरवा के पास कूड़ा सड़क पर ही पड़ा रहता है। इसे नगर पंचायत का ट्रैक्टर दोपहर में आकर उसे उठाता है परंतु तब तक चारों तरफ गंदगी फैली रहती हैं। इससे आने जाने वाले राहगीरों को नाक पर रूमाल लगाना पड़ जाता है। इसी तरह रसूलपुर मोहल्ले में उमेश सेठ के मकान के पास आए दिन गंदगी का ढेर लगा रहता है। कस्बे के उदासीन ऋषि आश्रम के बगल में बना नाला पूरी तरह से जाम पड़ा हुआ है। वहां कचरे का ढेर लगा रहता है। यहां कभी भी सफाई कर्मचारी साफ करने पहुंचते ही नहीं है। विजय स्तंभ चौक से नदी को जाने वाला मार्ग पर बनी नाली की पटिया जगह-जगह टूटी पड़ी हुई है। इससे कभी भी कोई दुर्घटना घट सकती है। शहीद चौराहे फोरलेन के दौरान नाला पूरी तरह से टूट गया है। यहां कई महीनों से गंदगी की भरमार लगी हुई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस