जागरण संवाददाता, चिरैयाकोट (मऊ) : स्थानीय थाने के वार्षिक निरीक्षण पर पहुंचे एसपी अनुराग आर्य ने धड़ाधड़ कार्रवाई की। कार्य में शिथिलता बरतने और लापरवाही में एसआई युवराज सिंह का सात दिन का वेतन काटते हुए निलंबित करने का आदेश दिया। वहीं थानाध्यक्ष के खिलाफ जांच का आदेश दिया।

एसओ नहीं खोल पाए पिस्टल

निरीक्षण के दौरान एसपी ने पुलिस कर्मियों से पिस्टल, रिवाल्वर, इंसास रायफल को खोलने-बंद करने के लिए तय समय दिया। इस पर असलहों को खोलने व बंद करने में सिपाही व दरोगा तो पास हो गए परंतु थानाध्यक्ष विनोद तिवारी फेल हो गए। वह पिस्टल तय समय में नहीं खोल पाए। तब एसपी को उन्हें बताना पड़ा।

धड़ाधड़ कार्रवाई से हड़कंप

- थाने पहुंचे बलिराम निवासी भीखमपुर व महमुदवा निवासी वीरेंद्र यादव द्वारा समाधान दिवस पर तीन बार दी गई शिकायत पर दरोगा युवराज सिंह ने कोई कार्रवाई नहीं की। इस पर सात दिन का वेतन काटते हुए युवराज को किया निलंबित।

- थानाध्यक्ष द्वारा समाधान दिवस पर आए मामलों पर शिथिलता बरतने और मामले का समाधान ना करने पर एसपी ने उनके खिलाफ जांच के आदेश दिए।

- भीखमपुर और महमुदवा में समाधान दिवस पर पड़े तीन शिकायती पत्रों का निस्तारण न होने के कारण लेखपाल रामसरीख यादव के विरुद्ध कार्रवाई के लिए जिलाधिकारी को लिखा पत्र।

- सीओ नंदलाल द्वारा लंबित मामलों का कोई फीडबैक ना लेने पर लगाई फटकार।

- मारपीट में मुकदमा दर्ज न कर समझौता कराने पर दरोगा देवेंद्र कुमार को लगाई फटकार।

Edited By: Jagran