जागरण संवाददाता, वलीदपुर (मऊ) : शासन ने नगर पंचायतों का गठन इसलिए किया कि लोगों को विकास के साथ-साथ शुद्ध पेयजल व सड़क सुविधा मिल जाएगी लेकिन मातहत इस पर पानी फेरते नजर आ रहे हैं। जनपद की नगर पंचायत वलीदपुर की हालत अब बद से बदतर होती जा रही है। यहां सैकड़ों घरों के लोग दूषित पानी पीने को विवश हैं। इनके घरों तक पहुंची जलनिगम की पाइप जर्जर हो चुकी है। इसे नगर पंचायत प्रशासन बनवाने की जहमत नहीं उठाया। यही वजह है कि यहां चार नंबर हैंडपंप का दूषित पानी पीने को लोग विवश हैं। यह किसी भी समय जानलेवा साबित हो सकता है। अभी हाल ही में यहां के एक दर्जन लोग दूषित पानी पीकर बीमार हो चुके हैं।

-------

नगरवासियों की माने तो नगर की पेयजल आपूर्ति पूरी तरह से खत्म हो चुकी है। गिने चुने मोहल्लों में ही पेयजल आपूर्ति होती है। पेयजल का संकट दिन प्रतिदिन गहराता जा रहा है। नगर में पानी के लिए हाहाकार मचा है। आम जनों की बढ़ती समस्याओं को देखते हुए संबंधित विभाग ने संज्ञान में लिया। इसमें नगर पंचायत के गठन के बाद 67 समबर्सिबल व नगर का चुनाव के बाद करीब 30 समबर्सिबल यानी कुल मिलाकर लगभग 100 समरसेबल 29500 आबादी पर पेयजल के लिए लगाया गया है। लगभग एक दर्जन समबर्सिबल की वाटर सप्लाई व्यवस्था सभी के घरों में नहीं पहुंच पाई है। नगर पंचायत प्रशासन ने 64 जगहों पर बिल्डिग बनाकर उसके ऊपर एक-एक हजार लीटर की पानी टंकी रखा है। गर्मी के दिनों में शीतल पेयजल के लिए आधा दर्जन जगहों पर फ्रिजर भी लगाया गया है।

नगर में गंदा पानी पीने से बीमार होने का मामला आए दिन देखने को मिलता रहता है।

कस्बेवासियों की कहानी, उन्हीं की जुबानी

नगर पंचायत विभाग द्वारा पेयजल व्यवस्था काफी जटिल है। इस समस्या को लेकर विभाग कभी गंभीरता से नहीं लेता है।

बच्चे लाल, भीरा पश्चिमी, वलीदपुर

--------

नगर में शुद्ध पेयजल आपूर्ति को लेकर जिम्मेदार अधिकारियों से कई बार कहा गया परंतु वहां से उत्तर मिला कि इस कार्य के लिए काफी लंबा बजट की आवश्यकता है।

शमीम अख्तर, भीरा पूर्वी, वलीदपुर

-----

इंसान का पेयजल मूलभूत आवश्यकता है। जब शुद्ध पानी नहीं मिलेगा तो तरह-तरह की बीमारी होने की संभावना बढ़ती जाएगी। नगर में आज भी कमजोर वर्ग के लोग दूषित पानी पीने को विवश हैं।

मतीउर्रहमान, भीरा, वलीदपुर

------------

नगर की जो मुख्य समस्या है उस पर आज तक विभाग ध्यान नहीं दिया। सिर्फ लाइट रास्ता आदि बनाने में लगी हुई है। आज भी लोग पेयजल के लिए परेशान रहते हैं।

गौरव गुप्ता बिचला पूरा, वलीदपुर

--------

नगर पंचायत पेयजल आपूर्ति की पाइप लाइन काफी पुरानी एवं जर्जर हो चुकी है। फिर भी नगर के 204 घरों में वाटर सप्लाई होती है। इसके अतिरिक्त लोगों की पेयजल सुविधा के लिए करीब 100 समबर्सिबल सभी मोहल्लों में लगवाया गया है। नितेश कुमार गौरव, ईओ वलीदपुर

Edited By: Jagran