जागरण संवाददाता, मऊ : बांदा जेल में निरूद्ध सदर विधायक मुख्तार अंसारी ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से आनलाइन आवेदन कर बांदा जेल में उच्च श्रेणी का बंदी घोषित करने व मेडिकल बोर्ड गठित कर उनके परामर्श के अनुसार मेडिकल सुविधा दिए जाने की मांग की थी। अपर जिला शासकीय अधिवक्ता ने पत्रावली एमपी-एमएलए कोर्ट भेजने का आवेदन किया था। सदर विधायक के सभी आवेदन पर वर्चुअल सुनवाई गुरुवार को होगी। सदर विधायक मुख्तार अंसारी के अधिवक्ता दारोगा सिंह ने बताया कि मुख्तार अंसारी सीनियर सीटिजन होने के साथ लगातार 25 वर्षों से विधायक हैं तथा ग्रेजुएट के साथ ही आयकर दाता भी हैं। ऐसे में वे उच्च श्रेणी बंदी की सुविधा के हकदार हैं। इस पर सुनवाई के बाद न्यायाधीश ने बांदा जेल से आख्या भी मांगा है। फर्जी असलहा लाइसेंस के मामले में आरोपित आधा दर्जन लोगों के साथ सदर विधायक के विरुद्ध गैंगस्टर का मामला दक्षिणटोला थाने में पंजीकृत है।

Edited By: Jagran