जागरण संवाददाता, मऊ : डीएम अरूण कुमार ने मंगलवार देर शाम बिजली विभाग से संबंधित योजनाओं व उनके अनुपालन के संबंध में समीक्षा बैठक की। अधिशासी अभियंता ने बताया कि विभाग से संबंधित शिकायतों के लिए एक कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। इसके माध्यम से शिकायतों को सुना जाता है। जिस पावर हाउस से संबंधित शिकायत होती है, उस पावर हाउस से संबंधित अधिकारियों-कर्मचारियों को निस्तारण के लिए निर्देशित किया जाता है। डीएम ने कंट्रोल रूम के नंबर पर काल करके कोपागंज के रोस्टर के बारे में पूछा। संतोषजनक उत्तर नहीं मिलने पर अधिशासी अभियंता को इसे ठीक ढंग से सक्रिय रखने के निर्देश दिए। अधिशासी अभियंता ने बताया कि शहरी क्षेत्र में 73,611 व ग्रामीण क्षेत्र में 2,95,108 उपभोक्ता है। बुनकरों को किस प्रकार बिजली का कनेक्शन दिया जाता है। इसके बारे में भी जानकारी ली। समीक्षा में 132 केवी उपकेंद्र बरजला का निर्माण कार्य अधूरा पाया गया। कार्य प्रारंभ होने की तिथि व जिस कंपनी द्वारा इसका निर्माण कार्य कराया जा रहा है उसके बारे में विस्तार से जानकारी ली। ट्रांसफार्मर वर्कशाप के बारे में भी जानकारी ली। इसमें अधिशासी अभियंता विद्युत प्रथम, द्वितीय व तृतीय उपस्थित थे।

Edited By: Jagran