जागरण संवाददाता, मऊ : घर-घर में दूध की गुणवत्ता को लेकर सवाल उठाए जाने और जिलाधिकारी तक पहुंची शिकायत पर शिकायत के बाद जिला प्रशासन के कान खड़े हो गए हैं। मंगलवार को जिले के विभिन्न भागों में मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी आरके दीक्षित के नेतृत्व में मिलावटी दूध बेचने वालों के खिलाफ अभियान चलाया गया। नगर के बलिया मोड़ से जहां कई बाल्टा वाले उल्टे पांव भाग खड़े हुए। इस दौरान अलग-अलग स्थानों से कुल पांच दूधियों के बाल्टे से दूध के नमूने एकत्र कर जांच के लिए लखनऊ स्थित खाद्य विश्लेषक प्रयोगशाला भेजे गए।

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के जिला अभिहित अधिकारी एसके त्रिपाठी ने बताया कि दूध में मिलावट की शिकायतें लगातार मिल रही हैं। बलिया मोड़ से खाद्य सुरक्षा अधिकारी बिदु पांडेय ने सत्येंद्र यादव निवासी रतनपुरा से दूध का नमूना लिया। जबकि मझवारा मधुबन मार्ग से रामनिवास यादव, चिरैयाकोट से रामकेश यादव तथा घोसी बस स्टैंड के पास से नंदलाल यादव से दूध का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा गया। इस दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारी रामानंद, जयहिद राम, पंकज यादव आदि उपस्थित थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस