जागरण टीम, मथुरा: चुनाव प्रचार में प्रत्याशी और उनके समर्थक आचार संहिता का पालन नहीं कर रहे हैं। गोवर्धन विधान सभा क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी मेघश्याम सिंह समेत 70 समर्थकों के खिलाफ थाना जैंत में रिपोर्ट दर्ज कराई गई, जबकि रालोद-सपा गठबंधन प्रत्याशी के समर्थन में सभा करने पर दो को नामजद करते हुए 60 लोगों के खिलाफ आचार संहिता का उल्लंघन का मुकदमा कराया गया है।

गोवर्धन विधान सभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी मंगलवार को गांव राल में चुनावी जनसभा कर रहे थे। जनसभा करने की प्रशासन से मंजूरी नहीं ली गई। कोविड-19 की गाइड लाइन का भी जनसभा में पालन नहीं किया जा रहा है। एसडीएम गोवर्धन संदीप वर्मा के आदेश पर थाना प्रभारी निरीक्षक सुशील कुमार योगी ने भाजपा प्रत्याशी मेघश्याम व 70 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

थाना कोसीकलां क्षेत्र के गांव दहगांव में रालोद-सपा गठबंधन प्रत्याशी जितेंद्र और बुद्धि समेत करीब 60 लोग चुनावी सभा कर नारेबाजी कर रहे थे। इसकी मंजूरी प्रशासन से नहीं ली गई। कोविड-19 की गाइड लाइन का भी पालन नहीं किया जा रहा था। इसकी जानकारी पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस चौकी गढ़ी बरबारी पर तैनात हेड कांस्टेबल ने जितेंद्र और बुद्धि को नामजद करते हुए समेत करीब 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ आदर्श आचार संहिता और कोविड-19 की गाइड लाइन का उल्लंघन करने की रिपोर्ट कराई है। आने वाली नहीं है भाजपा

संस, मथुरा : मथुरा विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व विधायक प्रदीप माथुर ने कहा है कि भाजपा आने वाली नहीं है। जनता को जनसेवक वाला जनप्रतिनिधि चाहिए, राजशाही वाला जनप्रतिनिधि नहीं चाहिए। वह कृष्णा नगर स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि जनता को दुख-दर्द बांटने वाला, विकास की बात करने वाले, तकलीफों को दूर करने वाला जनसेवक चाहिए । 28 जनवरी को मेरे हाथ का आपरेशन होना है। इसमें चोट लगी है। तीन दिन बाहर रहेंगे।

Edited By: Jagran