सुरीर: यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसों का सिलसिला थम नहीं रहा है। बुधवार तड़के नोएडा से आगरा की ओर सड़क पर खड़े कैंटर में पीछे से कैंटर आ टकराया। हादसे में दोनों कैंटर चालकों की मौत हो गई। कैंटर में सवार सेना की कैंटीन में कार्यरत फौजी गंभीर घायल हो गया।

यमुना एक्सप्रेस वे पर टाटा कैंटर बुधवार तड़के लोहे के एंगिल का सामान लेकर नोएडा से आगरा जा रहा था। थाना सुरीर क्षेत्र में माइल स्टोन 88 के पास सुबह करीब तीन बजे चालक ने टायर चेक करने के लिए कैंटर को बीच सड़क पर रोक लिया। वह अभी नीचे उतर कर टायर चेक ही कर रहा था कि पीछे से सेना की कैंटीन का सामान लेकर जा रहा टाटा कैंटर खड़े कैंटर में टकरा गया। हादसे में टायर चेक कर रहे चालक संतोष झा (41) निवासी नवादा मकरपुर थाना बेनीपुर दरभंगा (बिहार) की टायर के नीचे दबने से मौत हो गई। वहीं पीछे से टकराए कैंटर चालक राजेश (39) निवासी गांव खूनियों थाना इटवा सिद्धार्थनगर हाल निवासी मोतिया बाग रेलवे कॉलोनी, उत्तरी दिल्ली की मौके पर मौत हो गई। कैंटर में सवार सेना की कैंटीन में कार्यरत पूर्व फौजी जयालाल थापा निवासी मस्जिद कंपाउंड रंगपुरी दक्षिण पश्चिमी दिल्ली गंभीर घायल हो गए। हादसे की सूचना पर टोल चौकी एवं सुरीर पुलिस के अलावा एक्सप्रेस वे के रेस्क्यूकर्मी मौके पर पहुंच गए। दो घंटे की मशक्कत के बाद कैंटर में फंसे घायल को गैस कटर की मदद से बाहर निकाला गया। दोनों मृत चालकों के शव पोस्टमार्टम के लिए मोरचरी भिजवा दिए। इंस्पेक्टर अनूप सरोज ने बताया कि हादसे में दोनों कैंटर चालकों की मौत हो गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस