जागरण संवाददाता, मथुरा: मथुरा-वृंदावन नगर निगम के सफाई कर्मचारियों की समझौता वार्ता दूसरे दिन विफल हो गई। महापौर मृतक के यहां संवेदना जताने गए और हड़तालियों को वार्ता के लिए भी बुलाया। नगर निगम में महापौर उनका इंतजार करते रहे पर वाल्मीकि समाज के नेता नहीं पहुंचे। इस बीच शहर की नालियां गंदगी से बजबजा उठीं। सड़कों से कूड़ा नहीं उठा, डलाबघर भी ऐसे ही पड़े रहे। सीवर लाइनें तो उफनी ही, कई जगह तो चैंबर भी ओवरफ्लो हो गए। हड़ताल आगे चली तो गरमी के दिनों में स्थिति और खराब हो सकती है।

तीन दिन पहले अंतापाड़ा के सीवर में दम घुटने से मरे रूपेश उर्फ राकेश के परिवार को 25 लाख का मुआवजा और दो मृतक आश्रितों को स्थाई नौकरी देने की मांग पर अड़े कर्मचारी शुक्रवार को भी कामबंद हड़ताल पर रहे। सुबह उत्तर प्रदेश कर्मचारी संघ के नेताओं को निगम अधिकारियों ने वार्ता के लिए बुलाया, लेकिन यह बेनतीजा रही।

कर्मचारी नेताओं ने अपनी मांग दोहराई और संग में बैकलॉग कर्मचारियों को सफाई कार्य में लगाने और कर्मचारियों को सुरक्षा उपकरण देने की मांग भी कर दी। बाद में महापौर डॉ. मुकेश आर्यबंधु निगम के अधिकारियों और पार्षदों को लेकर मृतक के घर संवेदना जताने गए। यहां उन्होंने आश्वस्त करते हुए नौकरी के लिए एक महीने के समय मांगा और मुआवजा राशि दिलाने का भी आश्वासन दिया। यहां तय हुआ कि कर्मचारी नेता शाम को निगम कार्यालय आएंगे, जहां समझौता वार्ता होगी।

निगम कार्यालय में महापौर डॉ. आर्यबंधु देर सायं तक कर्मचारी नेताओं का इंतजार करते रहे, लेकिन कोई नहीं पहुंचा। महापौर ने सभी कर्मचारियों से काम पर लौट आने की अपील की है।

इस बीच शहर में गंदगी के हालात और बिगड़ गए। होलीगेट समेत सभी सड़कों पर नालियों का पानी बहता रहा। सुबह के समय होलीगेट चौराहे, छत्ता बाजार, असकुंडा, विश्राम घाट, स्वामी घाट आदि स्थानों पर सीवर का पानी सड़कों पर बहने से श्रद्धालुओं को मंदिर जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। हर कोई अठारह साल पुराने भाजपाई बोर्ड के हड़ताली दिनों की याद करते हुए गुजर रहा था।

मृतक के घर जाने वालों में निगम की कैबिनेट के उप सभापति हेमंत अग्रवाल, राजेश ¨सह ¨पटू, विष्णु चौधरी, राजीव ¨सह, राजीव राज पाठक, मीरा अग्रवाल, मीरा मित्तल, मेघश्याम सैनी, रूप ¨सह पटेल व अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस