मथुरा, जागरण टीम। छह दिसंबर को शाही मस्जिद ईदगाह में हनुमान चालीसा का पाठ और लड्डू गोपाल का अभिषेक करने की अखिल भारत हिंदू महासभा की घोषणा के बाद सतर्क पुलिस प्रशासन ने अब पदाधिकारियों की धरपकड़ शुरू कर दी है। प्रदेश प्रवक्ता संजय हरियाणा समेत पांच पदाधिकारियों को घरों में नजरबंद किया गया है। चार को हिरासत में लेकर थाने पर बैठाया गया। पुलिस की सक्रियता देख कई पदाधिकारी भूमिगत हो गए हैं। पदाधिकारियों का कहना है कि मंगलवार को अपराह्न 12 बजे वह गुपचुप तरीके से ईदगाह पहुंचेंगे।

सोमवार को मथुरा पहुंचने का दावा

महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष राज्यश्री चौधरी के भी मथुरा सोमवार को मथुरा पहुंचने का दावा किया गया है, हालांकि उनके बारे में बाकी जानकारी गोपनीय रखी गई है। महासभा की घोषणा के बाद शाही मस्जिद ईदगाह और श्रीकृष्ण जन्मस्थान जाने वाले सभी मार्गों पर पुलिस तैनात कर दी गई है। चार जोन, आठ सेक्टर में बंटे इलाके में मंगलवार सुबह आठ बजे से डीग गेट और मसानी के साथ ही हाईवे से जन्मस्थान जाने वाले मार्ग पर वाहनों का आवागमन पूरी तरह बंद कर दिया।

कांवड़ लेकर जा रहा महासभा पदाधिकारी हिरासत में

छह दिसंबर को शाही मस्जिद ईदगाह पर हनुमान चालीसा पाठ करने के अखिल भारत हिंदू महासभा के आह्वान पर पूरा जिला अलर्ट कर दिया है। ईदगाह आने जाने वाले रास्तों पर वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया। सुबह कांवड़ में गंगा जल लेकर जा रहे महासभा के आगरा जिला प्रभारी सौरभ शर्मा को पुलिस ने भूतेश्वर चौराहा से हिरासत में ले लिया। वह जन्मस्थान की ओर का रहे थे। उन्हें कोतवाली में बैठा लिया गया है।

देर रात छोड़े गए प्रदेश प्रवक्ता

रविवार को दिन भर कोतवाली में बैठाए गए प्रदेश प्रवक्ता संजय हरियाणा को देर रात घर छोड़ने के बाद पुलिस ने उन्हें घर पर ही नजर बंद कर लिया। वहीं गोवर्धन में सौरभ लंबरदार, धीरज कौशिक को घर पर नजरबंद किया गया है। जिलाध्यक्ष छाया गौतम ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष मुकेश पटेल और अलीगढ़ की जिलाध्यक्ष गौरी पाठक को उनके आवासों पर ही वहां की पुलिस ने नजरबंद कर लिया है।

वृंदावन और हाईवे थाने क्षेत्र में तीन पदाधिकारियों को पुलिस ने बैठा लिया है। कई पदाधिकारियों के घरों पर सोमवार को दिन में कई बार पुलिस ने दबिश दी, लेकिन वह हाथ नहीं लगे। जिलाध्यक्ष ने दावा किया कि हम सभी गुपचुप तरीके से तय स्थान पर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। इसलिए पदाधिकारी अपनी तैयारी कर रहे हैं।

केवल जरूरी वाहनोंं को ही जाने की अनुमति

ईदगाह और जन्मस्थान जाने वाले सभी मार्गों पर मंगलवार सुबह आठ बजे से बुधवार भोर तक वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित कर दिया गया है। एसपी सिटी एमपी सिंह ने बताया कि केवल एंबुलेंस, स्कूल वाहन और अन्य आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने वाले वाहनों को ही इधर से गुजरने की अनुमति होगी।

एसएसपी ने संवेदनशील स्थानों पर की पैदल गश्त

एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने संवेदनशील स्थानों पर पुलिस बल के साथ पैदल गश्त की। उन्होंने गोकुल रेस्टोरेंट से मसानी होते हुए डीग गेट तक गश्त की। इस दौरान संदिग्ध वाहनों की तलाशी भी ली गई।

पेशी पर नहीं पहुंचे पदाधिकारी, पांच को नोटिस

छह दिसंबर को लेकर शांतिभंग में पाबंद किए गए महासभा पदाधिकारियों की पांच दिसंबर को सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय में पेशी थी। लेकिन हिरासत में लिए जाने के कारण पदाधिकारी पेशी पर नहीं पहुंचे। प्रदेश प्रवक्ता ने बताया कि सभी ने अपनी हाजिरी माफी लगाई है। उन्होंने कहा कि जब कई लोगों को नजरबंद कर लिया गया है, ऐसे में वह पेशी पर कैसे पहुंच सकते हैं। अब छह दिसंबर को फिर न्यायालय ने उपस्थित होने के लिए तिथि नियत की है। मंगलवार को आनंदपुरी निवासी नीरज गौतम, कृष्णा नगर निवासी मनीषा ठाकुर, कृष्णा विहार निवासी कन्हैया, रामप्रकाश और चंदनवन निवासी रूपा लवानिया को शांति भंग में पाबंद कर नोटिस जारी किया गया है।

साढ़े 11 बजे एकत्र होंगे पदाधिकारी

महासभा के प्रदेश प्रवक्ता संजय हरियाणा ने बताया कि महासभा के सभी पदाधिकारी मथुरा पहुंच चुके हैं। ये सभी ईदगाह के पास ही 11 बजे के आसपास पहुंचने लगेंगे। फिर ईदगाह के लिए कूच करेंगे। उन्होंने बताया कि अभी स्थान को गोपनीय रखा गया है। लेकिन ईदगाह के आसपास ही होगा।

हनुमान चालीस का पाठ नहीं, तो करूंगा आत्मदाह

अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष दिनेश शर्मा ने सोमवार को एक बयान जारी कर रहा है कि बड़ी संख्या में पूरे देश से सनातनी मथुरा पहुंच चुके हैं। जन्मभूमि के आसपास होटलों में नहीं ठहरने दिया जा रहा है। अगर हम हनुमान चालीसा का पाठ भगवान श्रीकृष्ण के मूल गर्भगृह में नहीं करेंगे तो कहां करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर मुझे हनुमान चालीसा का पाठ नहीं करने दिया गया, तो मैं कल ही आत्मदाह कर लूंगा।

सरकार भी रख रही मामले पर नजर

शाही मस्जिद ईदगाह के आसपास कोई पहुंच न पाए, इसके लिए उसके बाहर बैरिकेडिंग की गई है। हर आने-जाने वाले व्यक्ति की ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है। सोमवार को दिन भर ईदगाह के बाहर बैरिकेडिंग का काम चलता रहा। उधर, सरकार भी पूरे मामले पर नजर रखे है। बीते वर्ष भी छह दिसंबर को अखिल भारत हिंदू महासभा ने शाही मस्जिद ईदगाह में लड्डू गोपाल का अभिषेक करने की घोषणा की थी, इसे लेकर पुलिस ने चौकसी बरती। बीते वर्ष नमाज पढ़ने वालों को आइडी कार्ड देखकर ही प्रवेश दिया गया था।

ये भी पढ़ें...

UP Urban Body Election 2022: सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ की विधायकों को नसीहत, निकाय चुनाव पर करें फोकस

पूरे इलाके की ड्रोन से निगरानी

अलग-अलग स्थानों पर ड्रोन लेकर पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। डीग गेट, मसानी, श्रीकृष्ण जन्मस्थान और ईदगाह के बाहर ड्रोन कैमरे उड़ाए जाएंगे। प्रदेश सरकार भी पूरे मामले पर नजर रखे हैं। सूत्रों का कहना है कि शासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी इस बाबत अधिकारियों से वार्ता की। उनसे सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जानकारी ली गई।

होटलों की तलाशी, हर संदिग्ध से पूछताछ

अखिल भारत हिंदू महासभा के कुछ पदाधिकारियों के बाहर से आने की सूचना थी, ऐसे में पुलिस ने सतर्कता बरती। शाही मस्जिद ईदगाह के आसपास स्थित होटलों के अलावा आसपास कुछ दूर स्थित होटलों में लोगों के बारे में जानकारी की। जो लोग यहां ठहरे हैं, उनके बारे में भी जांच पड़ताल की गई। जो भी संदिग्ध दिखे, उनके आइडी कार्ड देखने के साथ ही उनसे पूछताछ की गई।

स्टेशन पर बढ़ाई गई सुरक्षा

छह दिसंबर को लेकर जंक्शन रेलवे स्टेशन की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। जीआरपी और आरपीएफ की टीम गश्त कर रही हैं। संदिग्धों पर नजर रखी जा रही है।जीआरपी और आरपीएफ के जवान प्लेटफार्म, सर्कुलेटिंग एरिया, वेटिंग हाल, लाइन पर लगातार गश्त कर रहे हैं। यात्रियों की सुरक्षा का ध्यान रखा जा रहा है। जीआरपी प्रभारी निरीक्षक विकास सक्सेना ने बताया कि छह दिसंबर के मद्देनजर जंक्शन की सुरक्षा बढ़ाई गई है। तीनों प्रवेश द्वार पर जवान तैनात कर दिए गए हैं। ट्रेनों में चेकिंग कराई जा रही है।

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट