वृंदावन, जासं। पुलिस का बुधवार की रात को गांव तेहरा के जंगल में बदमाशों से आमना-सामना हो गया। जवाबी फायरिग हुई। गोली लगने से घायल दो बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस का कहना है कि इन्हीं बदमाशों ने करीब दो महीने पहले यमुना एक्सप्रेस वे पर विदेशियों से लूटपाट की थी। लूट का सामान भी आरोपितों से बरामद हुआ है।

कोतवाली पुलिस को सूचना मिली की गांव तेहरा के जंगल में कुछ संदिग्ध छिपे हुए हैं। कोतवाली पुलिस और स्वाट ने मिलकर तेहरा के जंगल की घेराबंदी कर ली। पुलिस की घेराबंदी में खुद को देख बदमाशों ने फायरिग कर दी। जबाव में पुलिस ने भी फायरिग की। गोली लगने से अलीगढ़ के थाना गौंड़ा क्षेत्र के गांव बलौट निवासी रविद्र और धर्मेंद्र घायल हो गए। दोनों के पैरों में गोली लगी थी। पुलिस ने इनको स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया।

पूछताछ में दोनों बदमाशों ने 9 जून को यमुना एक्सप्रेस वे पर विदेशी पर्यटकों से हुई लूट की घटना भी कबूली है। कोतवाली प्रभारी संजीव कुमार दुबे ने बताया कि बदमाशों से लूट का सामान मोबाइल फोन, पासपोर्ट, 15 हजार यूएसए के डालर, एक यूरो और अन्य सामान भी बरामद हुआ है। दोनों बदमाशों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। फ्लैश बैक: यमुना एक्सप्रेस-वे पर 9 जून को अनूप कुमार निवासी गांव गड़ेला पोस्ट बसही करछना, इलाहाबाद हाल निवासी कल्याण कुंज बरौला सेक्टर 49 नोएडा अपनी मित्र अर्चना माछे निवासी गोसाईबरी लखीमपुर, थाना नारायणपुर, असम और विदेशी महिला मित्र एलोडी सेलिन क्लॉटिल्डे रूसो निवासी पोर्ट लुइस, मॉरीशस के साथ आगरा के लिए जा रहे थे। उनकी टैक्सी स्विफ्ट डिजायर कार यूपी 11 एटी 0766 को थाना नौहझील क्षेत्र में माइल स्टोन 75 पर सुबह करीब साढ़े दस बजे कार खराब हो गई। लाल रंग की हीरो पेशन बाइक पर सवार तीन युवक सर्विस रोड पर आए। दो युवक एक्सप्रेस-वे पर ऊपर चढ़ आए। दोनों ने हथियारों का भय दिखाकर अनूप कुमार, अर्चना माछे और विदेशी महिला से लूटपाट की और भाग गए थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप