मथुरा, जासं। एटीएम में अगर छोटे नोट निकालने जा रहे हैं, तो रास्ता बदल लीजिए। कारण जिले भर के अधिकांश एटीएम में छोटे नोटों का अकाल सा आ गया है। 50 का नोट तो पहले ही दूर की कौड़ी बना हुआ था, अब 100 और 200 के भी मुश्किल से मिल रहे हैं।

दिन-रात कभी भी कैश की जरूरत पड़ने के उद्देश्य से एटीएम बनाए गए थे। मगर, इस सुविधा ने असुविधा का रूप ज्यादा ले लिया है। हालांकि इनकी संख्या जिले में 200 से अधिक है, लेकिन कैश कभी भी खत्म हो जाता है। रात होते ही अधिकांश एटीएम बंद कर दिए जाते हैं। तकनीक खराबी अक्सर बनी रहती है। इस समय अनोखी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। छोटे नोट लगभग नदारद से हो गए हैं। सिर्फ 500 और दो हजार रुपये का नोट ही निकल रहा है। यह हाल अधिकांश एटीएम में है। इससे छोटी जरूरत वाले लोगों को समस्या आ रही है। इसके पीछे बैंक अधिकारियों का तर्क है कि एटीएम में छोटे नोट डालने से नोटों की संख्या तो बढ़ जाती है, लेकिन कैश कम डल पाता है। वहीं, बड़े नोट डालने से ज्यादा कैश आ जाता है और रोज एटीएम लोड करने की परेशानी भी नहीं आती है। ये कहना लोगों का:

पिछले कुछ दिनों से एटीएम से छोटे नोट नहीं निकल पा रहे हैं। ऐसे में मजबूरन बड़े नोट निकालने पड़े रहे हैं। अधिकतर बैंक के एटीएम में यही हाल है।

अंकित चौधरी एटीएम में किसी न किसी समस्या का आना आम बात जैसी हो गई है। इससे ग्राहकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ जाता है।

सुमित सिंह

कुछ बैंकों के एटीएम में हो सकता है कि छोटे नोट न हो, लेकिन सभी में यह समस्या आना मुश्किल है। अगर ऐसा है तो इसे देख समस्या का निदान कराया जाएगा।

-अनिल गुप्ता, अग्रणी जिला प्रबंधक लीड बैंक

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस