मथुरा: श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व के अंतिम उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद ने रामलीला मैदान में भजन गायक अनूप जलोटा ने एक के बाद एक भजन की प्रस्तुति देकर श्रोताओं को झूमने के लिए मजबूर कर दिया। रविवार देररात तक कार्यक्रम चला। लोग अंतिम क्षण तक भजन सुनने के लिए मैदान में डटे रहे।

पहली बार श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व यहां तीन दिन तक मनाया गया। उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद ने जगह-जगह सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन कराया। अंतिम दिन शाम छह बजे से रामलीला मैदान में विधा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें रास लीला, कृष्ण लीलाओं पर आधारित नृत्य नाटिका, ब्रज के लोक, राई और ढेढिया नृत्य का आयोजन किया गया। अंतिम कार्यक्रम प्रसिद्ध भजन गायक अनूप जलोटा का था। अनूपा जलोटा के भजन सुनने के लिए मैदान में दर्शक और श्रोताओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी। उन्होंने सबसे पहले ऐसी लागी लगन, मीरा हो गई मगन, वो तो गली गली हरि गुण गाने लगी प्रस्तुत किया तो माहौल भक्तिमय हो गया। इसके बाद उन्होंने अगला भजन बोलो राम राम प्रस्तुत किया तो लोग तालियां बजाते हुए झूमने लगे। जल से पतला कौन है, की प्रस्तुति देकर श्रोताओं को अंदर तक झकझोर दिया। जैसे ही श्याम तेरी बंशी पुकारे राधाश्याम भजन का गायन शुरू किया, उसी के साथ मैदान में राधे कृष्ण और जय कन्हैया लाल का भी श्रोताओं ने जयघोष भी किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप