मथुरा, जासं: एनआरआइ युवती से सामूहिक दुष्कर्म के मामले को लेकर सोमवार की रात को पुलिस ने श्रीकृष्ण जन्म भूमि पर लगे सीसीटीवी खंगाले और लपकों की फोटोग्राफी भी कराई गई। एक दर्जन से अधिक लपका भी पुलिस ने हिरासत में लिए हैं। उनसे भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस को पूछताछ में कई अहम सुराग मिले हैं।

भारतीय मूल की दक्षिण अफ्रीका की युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म किए जाने की रिपोर्ट दर्ज करने के बाद पीड़िता अपने बयान से भले ही मुकर रही हैं, लेकिन पुलिस इस मामले की गहनता से तहकीकात कर असलियत तक पहुंचने की कोशिश में लग गई। पीड़िता श्रीकृष्ण जन्मभूमि से दर्शन करके गोकुल की एक गाइड और ऑटो चालक के साथ निकली थी। पुलिस ने भी अपनी जांच भी यहीं से शुरू की। इसके लिए पुलिस ने श्रीकृष्ण जन्मभूमि पर लगे सीसीटीवी खंगाले। सीसीटीवी में पुलिस को युवती और साथी महिला के आने की जानकारी हाथ लगी है। जिसे पीड़िता अपनी आंटी कहकर जिला अस्पताल में पुकार रही थी। पुलिस ने श्रीकृष्ण जन्मभूमि के आसपास खुद को पंडा और गाइड बताने वाले लपकों की भी फोटोग्राफी कराई है। इसके पीछे यह माना जा रहा है कि पुलिस पीड़िता को फोटो दिखाकर असली दोषियों को चिन्हित करने की कोशिश में लग गई है। थाना गो¨वदनगर इंस्पेक्टर बैजनाथ ¨सह ने बताया कि थाना महावन क्षेत्र में एनआरआइ महिला के साथ हुई घटना को लेकर सीसीटीवी देखे गए हैं। लपकों से भी पूछताछ की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस