संसू, औंछा, मैनपुरी: कस्बा से एटा की ओर जाने वाला मुख्य मार्ग बारिश में हुए जलभराव से खतरनाक हो गया है। सड़क पर हुए गहरे गड्ढों में पानी भर गया है, जिससे आए दिन लोग हादसों का शिकार हो रहे हैं।

औंछा-एटा मार्ग प्रमुख है। इस रास्ते हर रोज सैकड़ों वाहन गुजरते हैं। कस्बा की सीमा के अंदर रास्ते के किनारे नाली न बनने से सड़क बुरी तरह टूट चुकी है। दुर्गा मंदिर के पास कस्बा औंछा के लिए बनी सीसी रोड व एटा जाने के लिए मुख्य डाबर रोड के ज्वाइंट पर सबसे ज्यादा बुरा हाल है। यहां जलभराव से सड़क कट गई है और गहरे गड्ढे हो गए हैं। अब बारिश में ये गड़्ढे पानी से लबालब हो चुके हैं। यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को गड्ढे नजर नहीं आते, जिससे हादसे हो रहे हैं। बीते 10 दिन में कस्बा निवासी रीतेश कुमार, विमलेश, सुमित कुमार, रागनी, रामवीर, नीरज, संजू चुटैल हो चुके हैं। अब ग्रामीणों ने डीएम से समस्या हल कराने की मांग की है। मांग करने वालों में रूबी यादव, सुरेंद्र सिंह, सर्वेश यादव, सुधीर यादव, मोहित, शीलू यादव, बंटी शर्मा, सतनेश, राकेश, श्यामवीर सिंह शामिल हैं। बारिश में किशनी थाना बना तालाब

संसू, किशनी: दो दिन से हो रही बरसात ने गर्मी से तो राहत दिलाई, परंतु जलभराव ने लोगों के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। पूरे दिन बारिश होने से किशनी थाना परिसर जलाशय में तब्दील हो गया। थाने आने वाले फरियादियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कस्बे में भी कई जगह जलभराव हो गया।

जसवंतपुर की गलियों में भरा पानी

संसू, बिछवां : विकास खंड सुल्तानगंज के गांव जसवंतपुर में तालाब की जमीन पर कब्जा होने के बाद गांव के पानी के निकलने की कोई व्यवस्था नहीं है। अब मुख्य सड़क पर बारिश का पानी कई दिनों से भरा है। ग्रामीणों ने डीएम से सड़क के किनारे नाला खुदवा कर पानी को निकलवा जाने की मांग की है।

गांव जसवंतपुर में सड़क के किनारे तालाब पर गांव के लोगों ने मिट्टी डालकर कब्जा कर लिया है, जिससे गांव का पानी बाहर नहीं निकल पा रहा। पानी बाहर नहीं निकलने से ग्रामीणों को परेशानी हो रही है। ग्रामीण अखंड प्रताप, देवेंद्र सिंह, सिटू राम, रमेश, रामवीर, सोनू, मोनू आदि ने पानी निकलवाए जाने की मांग की है।

Edited By: Jagran