संसू, बेवर: गांव कांसेपुर में एक दबंग की दबंगई पूरे गांव की परेशानी का सबब बन गई है। 125 बीघा से अधिक खेतों को जोड़ने वाले चकरोड को दबंग ने रोक रखा है। ऐसे में किसानों को अपने खेतों तक जाने के लिए दूसरे गांव से होकर जाना पड़ रहा है। शनिवार को लेखपाल ने प्रधान के साथ पंचायत में विवाद को सुलझाने की कोशिश, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। अब मामले में एसडीएम ने कार्रवाई की बात कही है।

ग्राम पंचायत दोदापुर के गांव कांसेपुर से उत्तर-पूर्व दिशा में चकरोड निकलता है। इस चकरोड से आसपास के 125 बीघा से अधिक खेत जुड़े हुए हैं। गांव कांसेपुर के साथ आसपास के गांवों के किसान अपने खेतों पर आने-जाने के लिए इसी रास्ते का प्रयोग करते थे। परंतु पिछले दिनों गांव निवासी जगदीश ने चकरोड को बंद कर दिया। इससे गांव कांसेपुर के 65 किसान और आसपास के गांवों के अन्य किसान प्रभावित हो रहे हैं। वर्तमान में सभी खेतों में में धान की फसल तैयार खड़ी है। खेतों से फसल को अपने घरों तक लाने के लिए अब किसानों को काफी दूर दूसरे गांव का चक्कर काटना पड़ रहा है। इस मामले में किसानों ने तहसील में शिकायत की थी। किसानों का है कि जगदीश दबंग है और रास्ता खोलने की कहने पर झगड़ा करता है। इसके बाद लेखपाल असित यादव और प्रधान सहवीर सिंह यादव ने ग्रामीणों और रास्ता रोकने वाले व्यक्ति से बातचीत की। रास्ता खुलवाने का प्रयास किया, लेकिन जगदीश रास्ता खोलने को तैयार नहीं है। इसके बाद किसानों ने दोबारा एसडीएम के सामने समस्या रखने का फैसला लिया है।

मामले में एसडीएम भोगांव सुधीर कुमार सोनी का कहना है कि लेखपाल द्वारा मामले को संज्ञान में लाया गया है। राजस्व कर्मचारियों की टीम पुलिस बल के साथ मौके पर भेज कर रास्ते को खुलवाया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021