जासं, मैनपुरी: कोरोना से ठीक होने के बाद भी लोगों को पोस्ट कोविड लक्षणों से जूझना पड़ रहा है। कई मरीज ऐसे भी हैं, जिनमें निगेटिव होने के बावजूद पोस्ट कोविड के लक्षण चिकित्सकों की चिता बढ़ा रहे हैं। खुद चिकित्सक भी इस बात को मानने लगे हैं कि ठीक होने के बावजूद कुछ दिनों तक सिर दर्द, जुकाम-खांसी, गला जाम रहना और सांस लेने में समस्या का सामना करना पड़ सकता है। जिला अस्पताल के पोस्ट कोविड वार्ड में अब तक छह मरीजों को भर्ती किया जा चुका है। एक की हालत बिगड़ने पर रेफर किया गया है।

कोरोना का उपचार कर रहे डा. राज विक्रम का कहना है कि पोस्ट कोविड लक्षण धीरे-धीरे कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों में उभर रहे हैं। ये लक्षण ऐसे लोगों में ज्यादा देखने को मिल रहे हैं जो डायबिटिक हैं या फिर किसी दूसरी बीमारियों से पहले से ही बीमार रहते हैं। जिला अस्पताल के सीएमएस डा. अरविद कुमार गर्ग का कहना है कि उनके यहां पोस्ट कोविड वार्ड बना हुआ है। 10 बिस्तरों वाले इस वार्ड में अब तक छह मरीजों को भर्ती किया गया है। पांच तो पूरी तरह से स्वस्थ होकर घर गए हैं, जबकि एक बुजुर्ग महिला को रेफर किया गया है। इन लक्षणों के बाद मरीजों को खासी देखभाल की जरूरत होती है। जरा सी लापरवाही भी समस्या बढ़ा सकती है। ये हैं पोस्ट कोविड के लक्षण

- सिरदर्द और थकान यह पहला लक्षण है। असल में कोरोना हमारे शरीर की मसल्स फाइबर को नुकसान पहुंचाता है। जिससे शरीर में दर्द और तनाव रहता है।

- सांस लेने में समस्या भी होती है। बहुत से मरीज ऐसे हैं जिनका ठीक होने के बाद भी आक्सीजन लेवल घटता बढ़ता है। ऐसे मरीजों को सांस लेने में समस्या होती है। गंभीर रूप से प्रभावित मरीजों को कई महीनों तक यह समस्या रह सकती है।

- सदी, जुकाम दोबारा होने लगता है। कई बार खांसी के साथ लोगों का गला भी बैठ जाता है। यह धीरे-धीरे ठीक होता है।

- पैरों में सूजन के साथ बालों के झड़ने की समस्या भी पोस्ट कोविड मामलों में देखी जा रही है। कई ऐसे लोगों हैं जो कोरोना से तो ठीक हो गए, लेकिन उनके बाल झड़ रहे हैं और शरीर के कुछ हिस्सों में सूजन बनी रहती है।

- इसके अलावा तनाव रहना, नींद न आना, शरीर के आंतरिक अंगों में सूजन, सीने में दर्द, दिल का दर्द आदि की समस्या भी हो रही है। ये करें उपचार

वरिष्ठ चिकित्सक और सीएमएस 100 शैया डा. एके पचौरी का कहना है कि पोस्ट कोविड लक्षणों को दिनचर्या में बदलाव करके दूर कर सकते हैं। जो लोग कोरोना से ठीक हुए हैं वे खानपान में बदलाव करें। तली और बाजार की चीजों के अलावा ठंडे पेय पदार्थों को बंद कर दें। फल और अनाज का ही सेवन करें। सांस की समस्या को दूर करने के लिए ब्रीदिग एक्सरसाइज करें। गुब्बारे फुलाएं। गैजेट्स से दूरी बनाने के साथ भरपूर नींद लें। समय पर सोने और सुबह जल्दी उठने की आदत डालें। फिर भी यदि समस्या रहती है तो चिकित्सक से परामर्श जरूर लें।

Edited By: Jagran