संसू, अजीतगंज: जमीन की रंजिश में भतीजा ने अन्य की मदद से चाचा और चचेरे भाई पर छुरा से प्रहार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। दोनों को आगरा रेफर किया गया है। पुलिस ने एक आरोपित को छुरा सहित गिरफ्तार कर लिया है। घटना की रिपोर्ट चार लोगों के खिलाफ दर्ज कराई गई है।

थाना एलाऊ के गांव अजीतगंज निवासी मुन्ना खां का अपने भतीजों लड्डू खां, गब्बर खां और चंदन खां के साथ जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। मुन्ना खां का आरोप है कि लड्डू खां पक्ष द्वारा उनके हिस्से की जमीन पर अवैध कब्जा कर लिया गया है। इसे लेकर दोनों पक्षों में कई बार विवाद हो चुका है। गुरुवार रात करीब 10 बजे इसी बात को लेकर दोनों पक्ष में कहासुनी हो गई। इस दौरान गुड्डू खां पक्ष ने मुन्ना खां और उसके पुत्र नाजिम पर छुरा से हमला कर दिया। इस हमले में पिता-पुत्र गंभीर रूप से घायल हो गए। मुन्ना खां की आंतें बाहर निकल आ गई। घटना के बाद हमलावर फरार हो गए। पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां से दोनों को आगरा रेफर कर दिया गया। घटना की रिपोर्ट घायल मुन्ना खां के बड़े पुत्र आसिम खां ने लड्डू खां, गब्बर खां, चंदन खां और लड्डू खां के पुत्र साहिद के खिलाफ दर्ज कराई है। पुलिस ने गुड्डू खां को छुरा सहित गिरफ्तार कर लिया है। एसओ सुनील कुमार भारद्वाज ने बताया कि अन्य आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मां की मौत के बाद बीएसएफ जवान के निकले प्राण: संसू, बेवर: मां के निधन पर गांव आए बीएसएफ जवान की कुछ दिन बाद अचानक मौत हो गई। मौत का कारण जानने के लिए पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। इस घटना को लेकर ग्रामीण और स्वजन गमजदां हैं।

थाना बेवर के गांव नगला दिलीप निवासी शेषवीर सिंह बीएसएफ में जवान थे। उनकी तैनाती पंजाब के पालनपुर में थी। 18 अक्टूबर को उनकी मां विद्यावती का निधन हो गया था। 19 अक्टूबर को वह गांव आ गए थे। मां की मौत के बाद वे काफी परेशान रह रहे थे। परिवार के लोग उन्हें ढांढस भी बधा रहे थे। गुरुवार रात अचानक उनके सीने में दर्द हुआ। परिवार के लोग उन्हें अस्पताल ले जा रहे थे कि रास्ते में उनकी मौत हो गई। बीएसएफ जवान के दो बेटे और दो बेटियां हैं। उनके निधन से परिवार पर मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है।

Edited By: Jagran