मैनपुरी, जागरण संवाददाता। मतगणना की खुमारी दूसरे दिन शुक्रवार को सरकारी कार्यालयों में देखने को मिली। कई अफसर और कर्मचारी कार्यालयों में देरी से आए तो कई नदारद रहे। फरियादी भी इक्का-दुक्का ही दिखाई दिए। जहां अफसर और कर्मचारी मौजूद रहे, वहां केवल चुनाव परिणामों पर ही चर्चा होती रही।

सुबह दस बजे के बाद कलक्ट्रेट में अन्य दिनों की अपेक्षा भीड़ का आलम कम दिखा। फरियादी भी कम ही दिखाई दिए। डीएम पीके उपाध्याय और एनआइसी में प्रभारी बैठे थे। एडीएम बी लाल चुनाव कार्यालय में बैठे मतगणना के कामों को दूसरे अफसरों के साथ बैठकर सुलटाते दिखे। चुनाव कार्यालय में जरूर कुछ गहमागहमी नजर आई। इस दौरान कुछ कागजातों को सील करने का भी काम होता दिखा।

शुक्रवार सुबह 11 बजे जागरण टीम विकास भवन पहुंची तो नीचे के तल पर मौजूद कई विभागों के कर्मचारी व अधिकारी कार्यालयों में कम ही दिखाई दिए। दूसरे तल पर भी कुछ ऐसा ही नजारा दिखाई दिया। यहां परियोजना निदेशक एससी मिश्र कक्ष में बैठे मिले। वे इस दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना को लेकर अधीनस्थों से चर्चा करते रहे। कई कार्यालयों में कर्मचारी कम ही दिखाई दिए। जिला विकास अधिकारी भी कार्यालय में मौजूद थे। तीसरी मंजिल पर भी कुछ ऐसा ही नजारा दिखा। विकास भवन में जहां अधिकारी और कर्मचारी थे, वहां लोकसभा मतगणना और सरकार को लेकर चर्चा का माहौल ही दिखाई दिया। दोपहर 12 बजे के बाद विकास भवन के कुछ कार्यालयों के अधिकारी आए तो कर्मचारी भी हाजिर होते नजर आए।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस