जासं, मैनपुरी: पिछले सप्ताह से जिले में हुई झमाझम बारिश से किसानों के मुरझाए चेहरे खिल उठे हैं। इसी के साथ ही खेतीबाड़ी के काम ने गति पकड़ ली है। धान की रोपाई भी तेजी से हो रही है। माना जा रहा है तीन दिनों में रोपाई का काम पूर्ण हो जाएगा।

जिले में करीब 1,40,316 हेक्टेअर में खरीफ फसलों की बुवाई का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। पिछले सप्ताह से पहले तक बारिश न होने से किसान चितित थे और बोआई नहीं कर पा रहे थे। पिछले सप्ताह हुई झमाझम बारिश के बाद किसानों में चेहरे पर खुशी आ गई और उन्होंने आनन-फानन में बोआई और धान की रोपाई शुरू कर दी। माना जा रहा है तीन दिनों में यह कार्य पूर्ण हो जाएगा। इसके अलावा अन्य फसलों की बोआई का कार्य भी तेज हो गया है। इतनी हुई बुवाई-

फसल- लक्ष्य -बोआई हेक्टेअर में

तिल- 577-577

मूंगफली - 1524-1524

अरहर- 933-933

धान- 62670-55339

मक्का- 46692-42510

बाजरा-19164-12220

- नोट- रकबा हेक्टेयर में है।

-

बारिश होने से किसानों में खुशी है। उन्होंने खरीफ की फसलों की बोअई का लक्ष्य लगभग पूरा कर लिया है। जो बकाया है, वह भी जल्द पूरा कर लिया जाएगा।

- सूर्य प्रताप सिंह, जिला कृषि अधिकारी

-

किसानों की बात-

बारिश की वजह से इस बार खेती का काम पीछे चल रहा है। अब अच्छी बारिश होने से बात बनी है। खेतों में धान रोपाई का काम भी पूरा कर लिया गया है।

-सुरेंद्र सिंह, किसान।

-

इस बार खेती का काम देर तक चल रहा है। इसके पीछे बारिश देरी से होना रहा है। अब मौसम खेती के अनुकूल हुआ है तो काम तेजी से चलने लगा है।

- महावीर सिंह, किसान।

Edited By: Jagran