संसू, भोगांव (मैनपुरी) : डीएलएड की सेमेस्टर परीक्षा नौ केंद्रों पर करायी जाएगी। सितंबर के अंत में प्रस्तावित परीक्षा को लेकर डायट प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। सभी परीक्षा केंद्र जिला मुख्यालय पर बनाए गए हैं।

दो वर्षीय डीएलएड प्रशिक्षण के सत्र 2019 की अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा 27 सितंबर से प्रस्तावित है। डायट और 72 निजी संस्थानों में पंजीकृत इस सत्र के प्रशिक्षुओं की परीक्षा के लिए केंद्र निर्धारण का जिम्मा जिला विद्यालय निरीक्षक को दिया गया था। डीआइओएस कार्यालय से भेजे गए केंद्रों के नामों को परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय प्रयागराज ने मंजूरी दे दी है। परीक्षा को मैनपुरी शहर के जीआइसी, सनातन धर्म इंटर कालेज हसनपुर, चित्रगुप्त इंटर कालेज, गंगा सहाय कन्या इंटर कालेज, डीएवी कालेज, एकरसानंद कालेज, क्रिश्चियन इंटर कालेज में कराया जाएगा। जिले में चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा में तकरीबन 35 सौ से ज्यादा प्रशिक्षुओं को शामिल होना है। प्राचार्य नरेंद्र पाल सिंह, वरिष्ठ प्रवक्ता हर्षदीपांकर तिवारी, प्रवक्ता स्वेतांक शर्मा, आरेंद्र चौहान, कार्यालय सहायक आशीष चौहान, विमल यादव, सुजीत कुमार, विजेंद्र सिंह की टीमों ने परीक्षा को लेकर रूपरेखा तैयार की। डेढ़ दर्जन विभागों ने नहीं दी कार्ययोजना: आदर्श सांसद ग्राम योजना के लिए डेढ़ दर्जन विभाग तय दिन तक कार्य योजना बनाकर नहीं दे सके हैं। परियोजना निदेशक ने देरी को गलत बताते हुए इन विभागों के अधिकारियों को पत्र लिखा है। अगले दिनों में कार्य योजना बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं।

जिले के सांसद मुलायम सिंह यादव ने इस बार सांसद आदर्श ग्राम योजना में मैनपुरी ब्लाक के गांव गांगसी का चयन किया है। इस गांव के विकास के लिए दो दर्जन विभागों को कार्ययोजना बनाने के लिए सोमवार तक का समय दिया गया था। तय दिन को हुई बैठक में डेढ़ दर्जन विभाग अपने विभाग से संबंधित कार्ययोजना प्रस्तुत नहीं कर सके। इस पर सीडीओ विनोद कुमार ने आपत्ति जताई और कार्ययोजना बनाकर देने को निर्देश दिए।

-

यह नहीं दे सके कार्ययोजना-

सांसद आदर्श ग्राम योजना के लिए कार्ययोजना बनाकर नहीं देने वाले विभागों के विभागाध्यक्षों में मुख्य चिकित्साधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत और जल निगम, डीपीआरओ, जिला समाज कल्याण अधिकारी, युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल, जिला क्रीड़ा अधिकारी जिला समन्वयक नेहरू युवा केंद्र, जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला प्रबंधक दूर संचार, निदेशक आरसेटी- जिला समन्वयक कौशल विकास मिशन और खुद योजना के नोडल अधिकारी- जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी शामिल हैं।

-

सांसद आदर्श ग्राम योजना में कार्ययोजना बनाकर नहीं देने वाले विभागों के अधिकारियों को मंगलवार को पत्र भेजा गया है, इसे जल्द देने को कहा है। योजना में देरी करना गलत है।- केके सिंह, परियोजना निदेशक।

Edited By: Jagran