मैनपुरी, जागरण संवाददाता : दीपावली के त्योहार की खुशियां अपनों के साथ मनाने के बाद अब महानगरों को जाने वाले यात्रियों को रेल की कन्फर्म टिकट नहीं मिल रही है। जिले से होकर गुजरने वाली एक मात्र दैनिक कालिदी एक्सप्रेस में अगले एक सप्ताह तक लंबी प्रतीक्षा सूची होने से यात्रियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

जिले के अधिकांश इलाकों में मध्यम वर्गीय परिवारों के लोग महानगरों में नौकरी कर रहे हैं। विशेष तौर पर ग्रामीण अंचल के लोग दीपावली के त्योहार पर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के शहरों दिल्ली, फरीदाबाद, गुडगांव, गाजियाबाद से त्योहार पर घर आए हुए हैं। सोमवार को भैया दूज का त्योहार मनाने के बाद महानगरों की ओर वापसी का सिलसिला शुरू हो गया। रेल से सफर के लिए लोगों का प्रयास फिलहाल कामयाब होता नहीं दिख रहा है। कालिदी एक्सप्रेस में वातानुकूलित, शयनयान व सेकेंड क्लास में आगामी 10 दिनों तक कन्फर्म टिकट मिलना संभव नहीं हो पा रहा है। टिकट की चाहत में आरक्षण केंद्रों पुर गए लोग मायूस होकर लौट रहे हैं। एक सप्ताह तक लगातार आरक्षण मिलना संभव न होने से लोग अब परिवहन निगम की बसों से यात्रा करने का मूड बना रहे हैं। स्टेशन मास्टर भोगांव अतीक अहमद ने बताया कि आरक्षण काउंटर पर लगातार लोगों की भीड़ उमड़ रही है। ज्यादातर यात्रियों को प्रतीक्षा सूची की टिकट मिल रही है। उन्होंने बताया कि अगले एक सप्ताह तक कालिदी एक्सप्रेस में दिल्ली जाने वाले यात्रियों का दबाव रहेगा। एक सप्ताह बाद कन्फर्म टिकट मिलने की संभावना है। इसको लेकर लोग परेशान हैं। कुछ को अपने ठिकानों पर पहुंचने की जल्दी है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप