संवाद सहयोगी, चरखारी (महोबा): ग्राम गौरहरी निवासी रमेश का दस वर्षीय पुत्र दो दिन से लापता था। पिता ने इसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई थी। रविवार को पुत्र हमीरपुर के राठ में मिला। उसने बताया कि वह राठ से गांव गई बरात के साथ वापस राठ आ गया था। पुत्र को सकुशल पाकर स्वजन की खुशी का ठिकाना नहीं है।

शनिवार को रमेश ने पुलिस चौकी गौरहरी में तहरीर देते हुए बताया कि बालक मानवेन्द्र बीते शनिवार की रात मोहल्ले में टीवी देखने गया था। देर रात तक जब पुत्र नहीं आया तो घर वालों ने समझा कि पास पड़ोस में कहीं होगा, वहां पता किया तो बताया कि वह तो बहुत पहले ही यहां से चला गया था। गांव में तलाश की लेकिन बालक नहीं मिला। तभी रविवार शाम को सूचना मिली कि गांव में राठ से आई बरात के विदाई के वक्त उसी बस में मानवेंद्र बैठ गया और राठ पहुंच गया। वहां लोगों को जब पता चला तो उन्होंने फोन करके उसके यहां जानकारी दी।

चौकी प्रभारी सत्वेंद्र भदौरिया ने बताया कि गांव में एक राठ हमीरपुर से बारात आई थी उसी वाहन से बालक चला गया था। बालक को सुरक्षित राठ से उसके घर पहुंचा दिया गया है।

Edited By: Jagran