महोबा, जागरण संवाददाता। कानपुर सागर हाईवे पर शनिवार की शाम करीब पांच बजे स्कूली बच्चों को श्रीनगर से पवा गांव लेकर जा रहा तेज रफ्तार टेंपो चबूतरे में जा घुसा। दुर्घटना में 15 बच्चे घायल हो गए। इसमें आठ बच्चे गंभीर रूप से और सात को मामूली चोट आई है। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

सभी घायलों का उपचार चल रहा है।

चबूतर से जा टकराया टेंपो

शनिवार को कस्बा श्रीनगर के ब्रम्हानंद एजूकेशन एकेडमी की तीन बजे छुट्टी होने पर वहां की छात्रा 10 वर्षीय नैनशी कक्षा 5, 13 वर्षीय काजल कक्षा 6, 16 वर्षीय राधा कक्षा 8, 17 वर्षीय प्रीति कक्षा 10, 17 वर्षीय आकांक्षा कक्षा 10, 9 वर्षीय गजेंद्र कक्षा 7, 14 वर्षीय सचिन कक्षा 10, 14 वर्शीय मोनू कक्षा 10 के अलावा 7 और छात्र छात्राएं निवासी ग्राम पवा टेंपो से अपने घर जा रहे थे। शाम करीब पांच बजे हाईवे में स्थित ग्राम मुरानी में तेज रफ्तार टेंपो साइकिल सवार बच्चों को बचाने के चक्कर में अनियंत्रित होकर एक चबूतरे में टकरा गया। टेंपो पलटते ही बच्चों की चीख पुकार मच गई। ग्रामीणों की मदद से बच्चों को टेंपो से बाहर निकाला गया। दुर्घटना में आठ बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। छह बच्चों को मामूली खरोचें आई हैं।

सूचना मिलते ही स्कूल के प्रबंधक विजय पाल सिंह, ग्राम प्रधान रेखादेवी, हरिसिंह, अर्जुुुुन सिंह सहित तमाम लोग घटना स्थल पहुंच गए और अपने निजी वाहन में घायल छात्र छात्राओं को लेकर जिला अस्पताल लाए। जहां पर डा. जीतेंद्र और डा. राजेश भट्ट ने बच्चों का उपचार किया। डाक्टर ने बताया कि बच्चों की हालत ठीक है लेकिन उन्हें दो घंटे भर्ती रखा जाएगा। टेंपो चालक ग्राम बिलखी निवासी 30 वर्षीय उत्तम को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

प्रबंधक ने बताया कि प्रतिदिन छुट्टी होने के बाद छात्र छात्राएं प्राईवेट बस से अपने गांव जाते थे। शनिवार को बच्चे टेंपो से जा रहे थे, तभी रास्ते में हादसा हो गया। फिलहाल सभी लोग जिला अस्पताल में मौजूद हैं और बच्चों के अभिभावक को सूचना दे दी गई थी। थाना प्रभारी राधेश्याम वर्मा ने बताया कि इस मामले में अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। चालक को हिरासत में लिया गया है।

Edited By: Abhishek Agnihotri

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट