महराजगंज : केंद्र सरकार द्वारा किसानों को उनकी खेती में हुए नुकसान की भरपाई करने और उन्हें सम्मान का एहसास कराने के लिए शुरू किया गया किसान सम्मान निधि का लाभ महीनों बीतने के बाद भी क्षेत्र के तमाम किसानों को नही मिल सका है। विभागीय उदासीनता और कोरमपूर्ति के आलम यह है कि किसान कई बार फार्म भरकर भी योजना के लाभ से वंचित हैं और लाभ पाने के लिए भटक रहे हैं। जिनकी सुधि लेने वाला कोई नहीं है। नगर पंचायत निचलौल के घोड़हवा वार्ड निवासी अनिरुद्ध शर्मा का कहना है कि जब से योजना की शुरुआत हुई है। तब से तहसील और कृषि कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं। कई बार फार्म भरने के बाद भी उन्हें कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा केवल आश्वासन दिया जाता है। जबकि एक बार उनसे फार्म भरने के नाम पर सौ रुपये भी लिए गए थे।

-

ग्राम मिश्रौलिया निवासी इस्तखार सिद्दीकी ने बताया कि जब योजना की शुरुआत हुई थी तभी से फार्म भर रहे हैं। कई लोगों को चार ़िकस्त में पैसा आ गया, लेकिन उन्हें अभी तक लाभ नही मिला। जबकि उन्होंने लेखपाल, कृषि विभाग व तहसील कार्यालय में तीन बार फार्म जमा किया है। हर बार उन्हें निराशा मिलती है।

--

किसान शंभू मद्धेशिया, निवासी ग्राम मिश्रौलिया का कहना है कि सरकार के इस योजना के बारे में सुनकर उन्हें बहुत खुशी हुई थी कि अब कुछ सहयोग मिलेगा लेकिन यह झूठा लग रहा है। फार्म भरकर थक गए लेकिन कोई लाभ नही मिला।

-

गेडहवा निवासी किसान सिंहासन कुशवाहा का कहना है कि उनका नाम दर्ज हो गया है , लेकिन कुछ कमी बताकर उनके खाते में पैसा नही भेजा जा रहा है। जबकि वह कई बार जरूरी कागजात दे चुके हैं।

---

कोई किसान इस योजना से वंचित नही रह गया है। फिर भी कोई मामला ऐसा है, तो वह संबंधित ब्लाक के कृषि अधिकारी से अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है।

अभय कुमार गुप्ता

उप जिलाधिकारी, निचलौल

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस